लखीमपुर- खीरी ।सम्पूर्णानगर थाना क्षेत्र में अधिक भार वाहनों का कहर जारी है। आवश्यकता से अधिक वजन लादकर जा रहा ट्रैक्टर ट्राली अचानक अनियंत्रित होकर खेत में पलट गया ट्राली ईटों से भरी थी। मजदूरों ने छलांग लगाकर अपनी जान बचाई, वहीं कूदकर बयान जान बचाने के चक्कर में चालक घायल हो गया जिसका इलाज जारी है

बताते चलें कि थाना क्षेत्र सम्पूर्णानगर में आए दिन ओवरलोड वाहनों से दुर्घटनाएं हो रही हैं थाना क्षेत्र में 1 वर्ष पूर्व कस्बा सम्पूर्णानगर में ओवरलोड ईटों से भरे ट्रैक्टर ट्राली से कुचलकर खजुरिया के एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई थी वहीं 2 माह पूर्व कमलापुर में ओवरलोड ईटों से भरे ट्रैक्टर ट्राली ने एक अज्ञात व्यक्ति को कुचल दिया था जो कि अभी थाने में निरूद्ध है।

बता दें क्षमता से अधिक ईट भरकर ट्रैक्टर ट्राली मैलानी ,खुटार, बीसलपुर, पूरनपुर आदि स्थानों से चलकर सम्पूर्णानगर में पहुंच रहे हैं। आवश्यकता से अधिक वजन अपने घर ट्रैक्टर ट्राली फर्राटा भरते आए दिन नजर आते हैं दुर्घटनाओं को अंजाम भी दिया है इन सबके बावजूद अभी तक यहां की पुलिस ने इन पर किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की बृहस्पतिवार को एक ट्रैक्टर ट्राली ओवरलोड इंट लेकर बीसलपुर से थाना क्षेत्र की ग्रामसभा बसही में जा रहा था कि गांव के निकट पहुंचते ही अचानक अनियंत्रित होकर राममिलन विश्वकर्मा के खेत में पलट गया गनीमत रही ट्राली पर बैठे चार मजदूरों ने समय रहते कूद कर अपनी जान बचाई वही ट्रैक्टर चालक रविंद्र ने अपनी जान बचाने के चक्कर में ट्रैक्टर से छलांग लगा दिया परंतु बुरी तरह घायल होकर सम्पूर्णानगर की किसी अज्ञात क्लीनिक में भर्ती होकर अपना इलाज करवा रहा है। शाम 5:00 बजे तक ट्रैक्टर ट्राली खेत में ही पड़ा रहा।

क्षमता से अधिक वजन ईंट लादकर फर्राटा भरने वाले वाहनों पर कानूनी कार्यवाही करने के साथ ही वाहन जहां से ईंट ला रहे हैं उन भट्टों पर भी कार्यवाही किया जाना चाहिए ताकि ऐसे वाहनों को सड़कों पर फर्राटा भरने से रोका जा सके।

रिपोर्ट-गोविन्द कुमार