अनिश्चितकालीन धरने पर बैठा पूर्व विधायक का परिवार व समर्थक

by News Desk
32 views

लखीमपुर- खीरी :- सम्पूर्णानगर बीते दिनों सम्पूर्णानगर थाना क्षेत्र के पडुआ त्रिकोलिया में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया था जिसमें पूर्व विधायक निरवेंद्र कुमार मिस्र उर्फ मुन्ना की मृत्यु हो गई थी इस विवाद में पुलिस की भूमिका संदेहास्पद थी मृतक पूर्व विधायक के परिवार के अनुसार पलिया क्षेत्राधिकारी के संरक्षण में यह घटना घटी जिस कारण मृतक पूर्व विधायक के परिवारी जन धरने पर बैठे।



आप सभी को अवगत कराते चलें कि पलिया ब्लॉक के सम्पूर्णानगर थाना क्षेत्र के पढुआ त्रिकोलिया में बीते दिनों जमीन के कब्जे को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई इसी विवाद में पहुंचे पूर्व विधायक विरेंद्र कुमार मिस्र उर्फ मुन्ना की मृत्यु हो गई थी।

जिसके बाद मृतक पूर्व विधायक के परिवारी जनों और उनके समर्थकों द्वारा पुलिस प्रशासन का विरोध किया गया मृतक विधायक के पुत्र संजीव कुमार का आरोप है कि पलिया क्षेत्राधिकारी कुलदीप कुकरेती ने विपक्षियों को भूमि कब्जा करने में मदद करने पहुंचे थे जबकि इतवार के दिन लॉकडाउन था और राजस्व विभाग का कोई भी अधिकारी या कर्मचारी वहां मौजूद नहीं था ।

पुलिस क्षेत्राधिकारी पलिया की सह पर भू माफियाओं ने इस घटना को अंजाम दिया है। यह मामला बहुत ही हाई प्रोफाइल रहा क्योंकि पूर्व विधायक की मृत्यु के बाद जिले के सभी बड़े अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे यहां तक आईजी को घटनास्थल पर आना पड़ा।

सभी पार्टियों के अनेक नेता गण व विधायक पहुंचे इलाके में चर्चा पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आने की भी थी परंतु प्रशासन द्वारा उन्हें मृतक विधायक के घर पहुंचने से रोकने की खबर लगने के बाद वे नहीं आए ।पुत्र संजीव पुलिस की कार्यप्रणाली से नाराज होकर पिता का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया उनका कहना था।

जब तक दोषियों को गिरफ्तार तथा सीओ पलिया पर मुकदमा दर्ज नहीं होगा तब तक पिता का अंतिम संस्कार नहीं करूंगा । हालांकि उसके बाद पलिया विधायक रोमी शाहनी व उनके शुभचिंतकों द्वारा समझाने बुझाने के बाद संजीव मान गए और पूर्व विधायक के पार्थिव शरीर को राजकीय सम्मान देकर उनका अंतिम संस्कार किया गया।

वहीं आज पूर्व विधायक निर्वेन्द्र कुमार मुन्ना का परिवार पुलिस प्रशासन द्वारा इस घटना को अंजाम देने वालों के विरुद्ध उचित कार्यवाही ना किए जाने से नाराज होकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गया है। इस घटना में लापरवाही बरतने के कारण पलिया क्षेत्राधिकारी कुलदीप कुकरेती को आईजी लक्ष्मी सिंह ने जिला मुख्यालय से संबद्ध कर दिया है।

विधायक के पुत्र संजीव कुमार की मांग है पलिया क्षेत्राधिकारी पर मुकदमा लिखा जाए वहीं घटना में शामिल दो पत्रकारों धीरज और गुड्डू पर भी कार्यवाही की जाए ।घटना में शामिल अन्य को भी गिरफ्तार कर जेल भेजने की मांग के साथ और भी मांगे हैं ।

हालांकि इस प्रकरण में राधेश्याम गुप्ता पुत्र रामचंद्र गुप्ता, किशन गुप्ता पुत्र रामचंद्र गुप्ता, रिंकल गुप्ता पुत्र राम चंद्र गुप्ता, अनुराग गुप्ता पुत्र राधेश्याम, समीर गुप्ता पुत्र किशन गुप्ता सभी निवासी पलिया पर विधिक धाराओं में सम्पूर्णानगर थाने पर मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

और राधेश्याम गुप्ता पुत्र रामचंद्र गुप्ता तथा एक और व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इस पूरे घटनाक्रम की जांच 3 सदस्यीय टीम को सौंपी गई है जोकि इस प्रकरण की जांच कर 3 दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे।

डॉक्टरी रिपोर्ट के अनुसार पूर्व विधायक निर्वेन्द्र कुमार की मृत्यु हृदय गति रुकने से हुई थी।उनके शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं।



रिपोर्ट- गोविंद कुमार

Related Posts