NEWS KRANTI
Latest News In Hindi

अयोध्या विवाद पर फैसला बचा कुछ घंटे शेष, शहरों में फ्लैग मार्च, स्कूल बंद

अयोध्या:-: राम जन्मभूमि मसले में सर्वोच्च अदालत के ऐतिहासिक फैसले से पहले देशभर में अलर्ट घोषित किया गया है। यूपी में स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं और धारा-144 लागू कर दी गई है। शहरों में बलों ने फ्लैग मार्च कर सुरक्षा का भरोसा दिलाया। उधर, अयोध्या छावनी में बदल गई है। जमीन से आसमान तक निगरानी रखी जा रही है। हर चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। ड्रोन कैमरे चप्पे-चप्पे पर नजर रखे हुए हैं।अयोध्या के सुरक्षा प्रभारी एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडेय ने बताया, ”जिले में 60 कंपनी पीएसी व अर्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं। इसमें 15 कंपनी पीएसी, 15 कंपनी सीआरपीएफ और 10 कंपनी आरएएफ हाल में अयोध्या आई है जबकि 20 कंपनी पीएसी पहले से ही यहां तैनात थी। इसके अलावा दूसरे जनपदों से आये सुरक्षाकर्मियों में 1500 सिपाही, 250 सब इंस्पेक्टर, 150 इंस्पेक्टर, 20 डिप्टी एसपी, 11 एडिशनल एसपी तथा दो एसपी तैनात किये गए हैं। इसके साथ ही आसमान से निगरानी के लिए कैमरे युक्त 10 ड्रोन तैनात किए गए हैं। शहर के सभी चौराहों पर सीसीटीवी लगाए गए हैं। सरकार ने एक हेलीकॉप्टर भी अगले आदेश तक अयोध्या में रखने के निर्देश दिए हैं, ताकि आपात स्थिति में सेवा ली जा सके।”

पहचान पत्र दिखाने पर ही प्रवेश मिलेगा

अयोध्या में पूरे राम जन्मभूमि क्षेत्र यानी रामकोट को अभेद्य दुर्ग में तब्दील कर दिया गया है। राम जन्मभूमि के मुख्य दर्शन मार्ग को छोड़कर शेष सभी वैकल्पिक सम्पर्क मार्ग बंद कर दिए गए हैं। बिना पास चार पहिया वाहनों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। दो पहिया चालकों को भी बिना आईडी प्रूफ के प्रवेश की इजाजत नहीं है।

जत्थों में दर्शन करने भेजे जाएंगे श्रद्धालु

रामलला के दर्शन के लिए अधिक लोगों के आ जाने पर शहर के बाहर होल्डिंग एरिया बनाया गया है, जहां दर्शनार्थियों के जत्थों को रोका जाएगा और उन्हें छोटे-छोटे समूहों में दर्शन करने के लिए भेजा जाएगा ताकि एकदम से भीड़ ना बढ़े। शहर के बाहर पार्किंग के लिए भी स्थान चिन्हित किए गए हैं ताकि बाहरी वाहनों को वहां रोका जा सके।*

रामलला का दर्शन करने की अवधि बढ़ी

श्रीरामजन्मभूमि में विराजमान रामलला के दर्शन की अवधि बढ़ा दी गई है। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए जिला प्रशासन ने बदलाव किया है। अब प्रथम पाली में सुबह सात से 11.30 बजे तक और दूसरी पाली में दोपहर 12.30 से शाम पांच बजे तक रामलला का दर्शन किया जा सकेगा। यह आदेश 11 और 12 नवंबर को लागू रहेगा। इसके बाद पूर्ववत होगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.