अवैद्य चट्टे पर कार्रवाई करने गई टीम पर हुआ पथराव

by saurabh

कानपुर। एक ओर जहाँ शहरवासी स्थानीय प्रशासन व शासन से बेहतर सुविधाओं और स्मार्ट सिटी पाने की उम्मीद रखते है, वहीं जब शहर को साफ सुधरा बनाने के लिए स्थानीय स्तर पर कोई प्रयास किये जाते है तो इलाकाई लोग इकट्ठा होकर कार्रवाई का विरोध करते है और इतने उग्र हो जाते है कि सरकारी कर्मचारियों पर पथराव तक करने लगते है।

मामला कानपुर का है, जहाँ महापौर प्रमिला पांडे की अगुवाई में शहर के चमनगंज इलाके में स्थित अवैध चट्टे के खिलाफ कार्रवाई करने पहुंची नगर निगम टीम पर क्षेत्रीय लोगों ने पथराव कर दिया। पथराव में कैटल कैचिंग दस्ते की 3 गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई। घटना की सूचना पर नगर आयुक्त, एडीएम सिटी, एसपी की अगुवाई में भारी फोर्स पहुंचने पर मामला शांत हुआ।

नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक वह अपनी टीम के साथ अवैध चट्टे के खिलाफ कार्रवाई करने पहुंचे थे। जैसे ही भैंसें चट्टे के बाहर निकाली गई। मौके पर बड़ी संख्या में लोग इसका विरोध करने लगे। देखते ही देखते पथराव शुरू कर दिया गया। जिससे नगर निगम की 3 गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गयी। मौजूद पुलिसकर्मियों व नगर निगम सुरक्षाकर्मियों ने लाठियां पटक कर लोगों को वहां से खदेड़ा।

घटना की सूचना मिलने पर नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी मौके पर पहुंच गए। कुछ देर में भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। इलाके के धर्मगुरुओं को बुलाकर लोगों को समझाने के लिए कहा गया। चमनगंज थाने में चट्टे संचालकों को बुलाकर समझाया गया। इस मौके पर एडीएम सिटी एसपी सीओ भी मौजूद रहे।

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts