आमसभा में फिसली पंचायत एवं विकास मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया की जुबान

by vaibhav

कुंभराज (गुना):- चंचौडा विधानसभा क्षेत्र के कुंभराज दौरे पर पहुंचे पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया आक्रामक हो गए। सभा में उन्होंने कहा कि इलाके में अब तक जो हुआ, उसका चुकता हम तीन साल में कर देंगे।

उन्होंने कहा कि अधिकारियों से मेने कह दिया है!कि अगर भारतीय जनता पार्टी की सरकार में एक भी भाजपा कार्यकर्ता के साथ अन्याय हुआ, तो तेरी खटिया की खैर नहीं कहाँ जायेगी पता भी नहीं चलेगा। इससे पहले रोड शो हुआ, जो टेकरी मंदिर से नगर पालिका तक जहाँ जगह जगह स्वागत एवं फलों से सिसोदिया को तोला गया

इतने आक्रामक क्यों हैं सिसाैदिया
दरअसल, इसकी पृष्ठभूमि में ज्योतिरादित्य सिंधिया और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह की राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता है। सिसौदिया ने सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर भाजपा ज्वाॅइन की थी। कांग्रेस में रहते हुए सिंधिया ने एक अपवाद के अलावा कभी राघौगढ़ या इसके विधानसभा क्षेत्र में सभा आदि नहीं की। ठीक ऐसा ही दिग्विजय सिंह ने भी किया। 2003 के बाद से उन्होंने गुना, बमोरी आदि इलाकों में सभा नहीं की। अब हालात बदल गए हैं। अब वे आमने-सामने हैं। हाल के उपचुनाव के दौरान दोनों की ओर से बयानबाजी हो चुकी है। बमोरी में तो पूर्व सीएम ने महारानी लक्ष्मीबाई वाला प्रसंग तक छेड़ दिया।

भाजपा नेताओं ने भी बनाए रखी दूरी
खुद भाजपा शासनकाल के बीते 17 साल में भी कभी चुनाव के अलावा कोई भाजपा नेता राघौगढ़ में सभा लेने या रोड शो करने नहीं गया। यहां तक कि मंत्रियों ने भी वहां समीक्षा बैठक आदि नहीं की। वे जिला मुख्यालय तक ही सीमित रहते थे। भाजपा की ओर से दिग्विजय सिंह के गढ़ में सबसे प्रभावी चुनौती चांचौड़ा से पूर्व विधायक ममता मीणा की ओर से मिलती रही है। बाकी, राघौगढ़ के मामलों में भाजपा ने भी दूरी बनाए रखने की नीति अपनाई है।

रिपोर्ट :इदरीस मंसूरी

Related Posts