Home StateUttar PradeshBalrampur उतरौला कोरेन्टीन सेंटर की रसोईया गैस स्लेंडर का पाईप फटने से झुलसी

उतरौला कोरेन्टीन सेंटर की रसोईया गैस स्लेंडर का पाईप फटने से झुलसी

by anil
22 views

उतरौला (बलरामपुर)

उतरौला नगर में बने कोरेन्टीन सेंटर पर कोरोना योद्धाओं की भाती कोरेन्टीन किये गये लोगो के लिए भोजन बनाने वाली कोरेन्टीन सेंटर की रसोईया पूनम गुप्ता रात्रि का भोजन बनाते समय गैस सिलेंडर का पाईप फटने से झुलस गई जिसके बाद उन्हें नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उतरौला में भर्ती कराया गया मौके पर जब कोरेन्टीन सेंटर उतरौला पर जाकर घटना की जानकारी लिया गया तब कोरेन्टीन सेंटर पर कोरेन्टीन किये गये लोगो की देखभाल के लिए स्वास्थ्य विभाग का कोई भी कर्मचारी मौजूद नही रहा न ही उतरौला सदर लेखपाल ब्रम्हा मौके पर मौजूद मिले कोरेन्टीन सेंटर की देखभाल कर रहे ग्रामीण लेखपाल सुहेल खान ने बताया कि कोरेन्टीन सेंटर पर खाना बनाने वाली रसोईया भोजन बना रही थी अचानक गैस सिलेंडर का पाईप फट गया जिससे रसोईया झुलस उनसे जब रसोईया का नाम पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें रसोईया का नाम नही पता है रसोईया आज पहली बार भोजन बना रही थी जब उनसे रसोईया की नियुक्ति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया की कोरेन्टीन सेंटर पर रसोईया की नियुक्ति रूदल उतरौला करते है और जब रूदल उतरौला से घटना की जानकारी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जानकारी नही होने की बात कही इतना ही नही उन्होंने बताया कि उन्हें कोरेन्टीन सेंटर की रसोईया का नाम भी नही पता है इससे जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही साफ पता चलता है
वही जब इस घटना के बारे में झुलसी रसोईया से पता किया गया तो उन्होंने बताया कि 25 मार्च से वो लगातार कोरेन्टीन सेंटर पर भोजन बना रही है इससे पहले वो HRA स्कूल में बने कोरेन्टीन सेंटर पर भोजन बना रही थी सेंटर बदलने की वजह से अब वो पिछले एक सप्ताह से एम वाई यूसुफ उस्मानी में बने कोरेन्टीन सेंटर पर भोजन बना रही है सड़ियल पाईप होने के वजह से भोजन बनाते समय अचानक फट गया और मौके पर आग लग गया जिसमें वे झुलस गई उनके साथ भोजन बनाने वाली तीन और महिलाओं ने आग बुझा कर उनकी जान बचा ली उन्होंने गम्भीर आरोप लगाते हुए बताया कि कोरेन्टीन सेंटर पर स्वास्थ्य विभाग का कोई भी कर्मचारी मौजूद रही रहा न ही एम्बुलेंस बुलाया गया मौके पर घटना की सूचना पाकर उनके परिवार के लोगो ने ई रिक्शा से उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुचाया जहां उनका इलाज चल रहा है

*रिपोर्टर :- दीपक कुमार*

You may also like