Home StateMadhya Pradesh राजस्थान से अपहरण हुआ बालक गुना जिले के कुंभराज से कराया मुक्त एक गिरफ्तार

राजस्थान से अपहरण हुआ बालक गुना जिले के कुंभराज से कराया मुक्त एक गिरफ्तार

by nikhil
127 views

गुना :- बांरा जिले के बापचा क्षेत्र के गांव खेर खेड़ा 5 दिन पहले अगवा हुआ 10 वर्षीय बालक पुलिस ने जिले के चाचौड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत नलखेड़ा गांव से अपहरण हुए बालक को मुक्त कराया गया।

और अपहरण की वारदात में शामिल गुना जिले के कुंभराज के हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार किया इस कार्रवाई में बांरा जिले के पांच थानों तथा स्पेशल टीम और गुना एसपी राजेश सिंह एवं स्थानीय पुलिस टीम शामिल रही।


बांरा एसपी डॉक्टर रवि सबर बाल ने बताया कि 27 जुलाई की रात थाना बापचा क्षेत्र के खेर खेड़ा भूरा गांव के पप्पू उर्फ पर्वत सिंह लोधा के 10 वर्षीय बेटे रामेश्वर सिंह को उसके घर से अज्ञात बदमाश अगवा कर ले गए पर्वत सिंह की रिपोर्ट पर अपहरण का मामला दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू की।

29 जुलाई को अपहृत बालक के पड़ोसी के फोन पर अपहरणकर्ताओं ने फोन पर 5 लाख रुपयों की फिरौती मांगी इस पर ए एस पी विजय स्वर्णकार के नेतृत्व में पांच अलग-अलग टीमों का गठन किया गया जिसमें जिला स्पेशल टीम को भी शामिल किया गया।

ए एस पी विजय स्वर्णकार ने बताया की साइबर सेल के तकनीकी विश्लेषण तथा शुरुआती अनुसंधान मैं अपहरणकर्ताओं व बच्चे का जिला गुना के किसी गांव में होने का पता चला इस पर जिला गुना पुलिस से समन्वय कर पुलिस थाना कुंभराज जिला गुना निवासी हिस्ट्रीशीटर शिवराज मीना को राउंडअप कर पूछताछ की गई।

पूछताछ में पता चला कि बच्चे को 3 लोगों ने एक विशेष स्थान पर बंधक बनाकर रखा है!इस के बाद गुना जिले के एसपी राजेश सिंह की अगुवाई में पुलिस की विशेष टीम थाना कुंभराज,बांरा डीएसटी टीम प्रभारी रामेश्वर प्रसाद एवं थाना प्रभारी बापचा हरलाल मीणा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने अपहृत बालक को मुक्त करवाया

लेकिन अपहरणकर्ताओं को भनक लगने से पहले वह वहां से भाग निकले बांरा एसपी डॉ रवि ने बताया क्योंकि अपहृत बच्चे रामेश्वर की सलामती पहली प्राथमिकता थी।

इसके लिए वैकल्पिक रणनीति के तहत सीओ ओमेंद्र शेखावत के नेतृत्व में थाना अधिकारी छबड़ा, सरथल,छीपाबडोद, हरनावदा, तथा थाना अधिकारी कवाई को रूपयों की व्यवस्था कर फिरोती की रकम अपहरणकर्ताओं तक पहुंचाने व फिरौती देते समय अपहरणकर्ताओं को दबोचने की रणनीति तैयार की गई थी। पुलिस के जाल में अपहरणकर्ता फंस गए। इससे बालक बरामद हो गया।


रिपोर्ट इदरीस मंसूरी

You may also like