आज नूतन वर्ष के अवसर पर हिंदी विभाग राजकीय महाविद्यालय गैरसैंण द्वारा एक विराट कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ।जिसमें प्रयागराज, बरेली और बदायूं से आये प्रसिद्ध कवियों ने अपनी सहभागिता से मनमोहक काव्यात्मक वातावरण बना दिया ।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डा.नेगी जी के द्वारा दीप प्रज्वलन किया गया एवं कवि सम्मेलन का शुभारंभ बदायूँ से आये युवा कवि उज्ज्वल वशिष्ठ ने मां सरस्वती की वंदना से किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता भूगोल विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ.इन्दर कोहली एवं डॉ.सुबोध ने की ।

दायूँ से आये उज्ज्वल वशिष्ठ ने ‘माँ’ पर लिखी नज़्म से श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया एवं बरेली से आये आदेश कुमार राय ने ‘रेजलां 1962 के नायक मेजर शैतान सिंह को लेकर मनमोहक काव्यपाठ किया। प्रयागराज से आये इंक पब्लिकेशन के निदेशक दिनेश कुशवाहा ने उत्तराखंड की मूल संस्कृति को दर्शाते हुये यहाँ के पर्यावरण को लेकर अपने महत्वपूर्ण विचार व्यक्त किये।
डा.इन्दर कोहली ने भी काव्य पाठ के साथ धन्यवाद ज्ञापन दिया ।

कार्यक्रम का कुशल संचालन डा.विनय कुमार श्रीवास्तव ने किया। इस अवसर पर डॉ निशा,डॉ गंगा,डॉ सुबोध,डॉ प्रकाश एवं महाविद्यालय के सभी शिक्षण एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के साथ छात्र छात्राएं भी उपस्थित रहे।