कोचिंग सेंटर में शिक्षक ने की छात्रा से छेड़खानी

by News Desk
20 views

गोरखपुर -:- एक कोचिंग सेंटर में एक शिक्षक ने छात्रा के साथ छेड़खानी की। विरोध करने पर धमकी दी कि वह उसे बदनाम कर देगा। छात्रा ने परिवारवालों को यह बात बताई तो मामला थाने पहुंचा। आरोप है कि पुलिस वालों ने मुकदमा दर्ज करने की बजाए जांच की बात कहकर परिवारवालों को लौटा दिया। 

मामला सहजनवां क्षेत्र के एक गांव का है। इसी क्षेत्र के एक कोचिंग सेंटर के शिक्षक पर छेडख़ानी का आरोप लगा है। परिवार वालों का आरोप है कि उन्‍होंने तहरीर दी लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। उन्‍हें वापस लौटा दिया। 
उनके अनुसार छात्रा रोज की तरह सुबह कोचिंग सेंटर गई थी। लेकिन शिक्षक ने कोचिंग खत्‍म होने के बाद भी छात्रा को रोक लिया। उस समय तक सभी छात्र और छात्राएं जा चुकी थीं। कोचिंग सेंटर में छात्रा को अकेला पाकर शिक्षक उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा। छात्रा ने विरोध किया तो धमकी दी कि बदनाम कर देगा। किसी तरह बचते हुए छात्रा घर पहुंची। उसने परिवार वालों को पूरे मामले की जानकारी दी। इसके बाद परिवार वाले घघसरा पुलिस चौकी पहुंचे। वहां सिपाहियों ने चौकी प्रभारी के अवकाश पर होने का हवाला देते हुए उन्‍हें थाने भेज दिया। परिवार वालों ने थाने पहुंचकर आरोपित के खिलाफ तहरीर दी। लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। थानेदार पंकज कुमार ने कहा कि पहले जांच होगी। आरोपों की पुष्टि के बाद मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

10 दिन पहले छेड़खानी से तंग लड़की ने दे दी थी जान

अभी दस दिन पहले ही गोरखपुर जनपद के ही पिपराइच थाना क्षेत्र के एक गांव में लड़की ने कोचिंग आने-जाने के दौरान एक शोहदे द्वारा की जा रही छेड़खानी से आहत होकर अपने ऊपर मिट्टी तेल छिड़ककर आग लगा ली थी। परिवारीजनों ने उसके कपड़ों लगी आग बुझाई लेकिन तब तक वह गंभीर रूप से झुलस चुकी थी। उसे इलाज के लिए मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई। किशोरी के पिता की तहरीर पर पुलिस ने शोहदे के खिलाफ छेड़छाड़, मारपीट, धमकी और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर आरोपी और उसके माता-पिता को जेल भेज दिया था। 

  • रिपोर्ट -:- शशांक सक्सेना

Related Posts