Home StateUttar Pradeshkaushambi कोरोना काल मे ब्यापारियों ने आत्मनिर्भर बन देशी राखी बेचने के लिए रकम लगाया दांव पर

कोरोना काल मे ब्यापारियों ने आत्मनिर्भर बन देशी राखी बेचने के लिए रकम लगाया दांव पर

by nikhil
9 views

कौशाम्बी :- रक्षाबंधन को लेकर बाजारों में राखी की दुकानें सज गई हैं। पर्व को शेष 20 घंटे बचे हैं लेकिन अभी तक ग्राहक बाजार से नदारद है।



इस बार कोरोना का असर हर पर्व पर पड़ रहा है। रक्षा बंधन का पर्व तीन अगस्त को मनाया जाएगा। इसे लेकर बाजारों में एक सप्ताह पहले चहल-पहल हो जाती थी लेकिन इस बार ग्राहकों में उदासीनता पिछले दिन शुक्रवार से ही नजर आ थी।

राखी बेचने वालों ने अपनी दुकानें अच्छी बिक्री की आस में सजा लिए हैं लेकिन अभी तक ग्राहक नहीं दिख रहे हैं। इस बार बाजार से चीन की बनी राखियां भी नदारद हैं।


भारतीय राखियां ही दुकानदारों ने सजाई हैं। अझुवा ,सैनी सिराथू, देवीगंज अलीपुरजीता दारानगर कड़े देवीगंज मेन रोड़ सहित अन्य बाजारों में राखियों की दुकानें सजी हुई है। राखी बेचने वाले फुटकर ब्यावसाइयो का कहना है।

कि इस बार डाक से भेजी जाने वाली राखियों की बिक्री भी कम हो रही। शनिवार व रविवार को लॉकडाउन के कारण अब बिक्री के लिए केवल एक दिन ही बचे हैं। माना जा रहा है कि राखियों की बिक्री तो होगी लेकिन इसमें तेजी अनुमानित सोमवार को ही आएगी।



रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

You may also like