US President Donald Trump and China's President Xi Jinping attend a bilateral meeting on the sidelines of the G20 Summit in Osaka on June 29, 2019. (Photo by Brendan Smialowski / AFP) (Photo credit should read BRENDAN SMIALOWSKI/AFP via Getty Images)

कोरोना वायरस को लेकर अब दुनिया दो फाड़ में बंटती नजर आ रही है। एक ओर जहाँ आधा विश्व कोरोना को चीन की साजिश मानता है वहीं चीन और मित्र देश कोरोना के पीछे अमेरिका की साजिश बता रहे है। ऐसी ही एक रिपोर्ट पाकिस्तान के प्रकाशित हुई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तानी कोरोना वायरस को अमेरिका की साजिश मानते है। प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक करीब 43 प्रतिशत पाकिस्तानी मानते है कि कोरोना को अमेरिका ने पाकिस्तान को कमजोर करने के लिए बनाया है।

इससे पहले चीन ने कोरोना को लेकर अमेरिका पर आरोप लगाये थे। चीन का आरोप था कि पिछले साल सैन्य खेलों के दौरान अमेरिकी सैनिकों ने इसे वुहान के मछली बाजार में छोड़ा था।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस चीन में नवंबर से फैलना शुरू हुआ था। लेकिन चीन ने इस बात को पूरी दुनिया से छुपा कर रखा हुआ था। डब्लू एच ओ पर भी कोरोना के जुड़े तथ्यों को छुपाकर चीन की मदद करने की आरोप लग रहा है। माना जा रहा है कि पूरी दुनिया में अपना सिक्का जमाने के लिए चीन ने कोरोना वायरस को जैविक हथियार के रूप में चला है।