कानपुर। कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए केंद्र व राज्य सरकार निरंतर प्रयासरत है। जिसके चलते रेलवे ने भी इस महामारी से लड़ने के लिए कमर कस ली है। इसके तहत ट्रेनों के 22 कोचों को आइसोलेटेड कर लिया गया है। इन कोचो में 352 मरीजों को क्वारेन्टीन कर उनका उपचार किया जा सकेगा।

मकैनिकल इंजीनियर राहुल चौधरी ने बताया कि इन कोचों को पूरी तरह से तैयार कर लिया गया है। चेकिंग के बाद सभी 22 कोचों को सील करके रिजर्व लाइन में खड़ा करा दिया गया है। आपातकाल में आइसोलेटेड किये गए कोचों का उपयोग जनहित में किया जा सकेगा।एक कोच की क्षमता 16 मरीजों की है। इसके साथ डॉक्टरों का केबिन है और एक स्नान घर भी बनाया गया है। इसके अलावा और भी सुविधाओं से इन कोचों को लैस किया गया है।

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा