गोशालाओं का सत्यापन अक्टूबर में – मतदाता सूची का पुनरीक्षण शुरू

by nikhil

हमीरपुर :- त्रिस्तरीय पंचायतों के सामान्य निर्वाचन 2020 में उपयोग की जाने वाली मतदाता सूची के वृहद पुनरीक्षण कार्य के अंतर्गत अति आवश्यक प्रशिक्षण कार्यशाला में जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने कहा कि मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत किए जाने वाले कार्यों हेतु विकास खंड स्तर पर बी एल ओ, सुपर वाइजर ट्रेनिंग को ट्रेनिंग देकर ठीक ढंग से प्रशिक्षित किया जाय।

उन्होंने कहा कि 1 अक्टूबर से 12 नवंबर तक बीएलओ द्वारा किए जाने वाले घर घर सर्वे कार्यक्रम का कार्य ठीक ढंग से किया जाय। सर्वे के अवसर पर परिवारों के मुखिया से अवश्य बात की जाए । इसमें किसी तरह कीलापरवाही न बरती जाए । मतदाता सूची में कोई भी व फर्जी नाम ना जुड़ने पाएं।

इसके अलावा कोई भी पात्र व्यक्ति का नाम मतदाता सूची से कटने ना पाए, इसका विशेष ध्यान दिया जाए । जिलाधिकारी ने कहा कि मतदाता सूची में संशोधन ,परिवर्धन व विलोपन के कार्यों का उच्चधिकारियों के माध्यम से सत्यापन भी किया जाएगा । इसमें किसी तरह की लापरवाही पाए जाने पर संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम का कार्य समयबद्धता, सुचिता व पारदर्शिता के साथ किया जाए। ज्ञात हो कि मतदाता सूची पुनरीक्षण में ऑनलाइन आवेदन प्राप्त करने की अवधि 1 अक्टूबर से 5 नवंबर तक रहेगी ।उन्होंने कहा कि सभी अन्ना गोवंशो को गौशालाओं में ही अनिवार्य रूप से संरक्षित किया जाए तथा इसका प्रबंधन ठीक ढंग से किया जाय।

ऐसे निजी पशुपालक जो अपने पशुओं को सड़कों पर अन्ना छोड़ दे रहे हैं । उन पर 107 , 116 व पशु क्रूरता अधिनियम में कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि 1 अक्टूबर से सभी गौशालाओं का सत्यापन किया जाएगा । इसमें किसी भी प्रकार की कमी पाए जाने पर संबंधित जिम्मेदार पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में चारागाह को विकसित किए जाने का कार्य प्राथमिकता से किया जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी मशीन बिना रीपर के किसी भी दशा में नहीं चलेगी ।अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव , ज्वाइंट मजिस्ट्रेट / उप जिलाधिकारी सदर सहित उपजिलाधिकारी राठ, मौदहा मौजूद रहे।

Related Posts