केन्‍द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री, ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने नागरिक उड्डयन राज्‍य मंत्री, जनरल वीके सिंह (सेवानिवृत्त) और नागरिक उड्डयन मंत्रालय सचिव प्रदीप खरोला के साथ आज अंतर्राष्‍ट्रीय और घरेलू हवाई क्षेत्र संपर्क को मजबूत करने वाली दो उड़ानों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस कार्यक्रम में ग्‍वालियर और इंदौर (मध्य प्रदेश) – दिल्‍ली मार्ग के बीच इंडिगो की पहली सीधी उड़ान और एयर इंडिया की इंदौर (मध्य प्रदेश)-दुबई (संयुक्‍त अरब अमीरात) सीधी उड़ान को फिर शुरू किया गया।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इस कार्यक्रम में वर्चुअल तौर पर भोपाल से ही सहभागिता की।

इस कार्यक्रम में श्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर केन्‍द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री, श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, ऊर्जा मंत्री (मध्य प्रदेश), श्री भरत सिंह कुशवाहा, बागवानी और खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), श्री विवेक नारायण शेजवलकर, सांसद-लोकसभा, डॉ. सतीश सिकरवार, विधानसभा सदस्य-ग्वालियर पूर्व के अलावा अन्‍य विशिष्‍ट व्‍यक्तियों ने वर्चुअल तौर पर हिस्‍सा लिया।

राजीव गांधी भवन, नई दिल्ली में आयोजित इस कार्यक्रम में श्री तुलसीराम सिलावट, मंत्री – जल संसाधन, मत्स्य कल्याण और मत्स्य विकास, श्रीमती उषा ठाकुर, मंत्री – पर्यटन, संस्कृति, अध्यात्म, श्री शंकर लालवानी, सांसद – लोकसभा, श्री कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय महासचिव भाजपा, श्री रमेश मेंडोला, सदस्य विधानसभा -इंदौर श्रीमती मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़, विधायक श्री महेंद्र हार्डिया, विधायक श्री आकाश विजयवर्गीय, विधायक, श्री संजय शुक्ला, श्री विशाल जगदीश पटेल, विधायक इंदौर से वर्चुअल तौर पर उपस्थित थे। इसमें नागरिक उड्डयन मंत्रालय और भारतीय विमान प्र‍ाधिकरण के वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भी हिस्‍सा लिया।

इस मौके पर श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने कहा, “इंदौर-ग्वालियर-दिल्ली मार्ग पर सीधी विमान सेवा की शुरुआत केन्‍द्र सरकार की ‘सब उड़े सब जुड़ें’ पहल के अनुरूप है। मध्‍य प्रदेश के दो शहरों में पर्यटन के क्षेत्र में काफी संभावनाएं हैं और इससे व्‍यापार एवं पर्यटन के क्षेत्र में नए अवसरों को बढ़ावा मिलेगा। श्री सिंधिया ने कहा कि पिछले 53 दिनों में मध्‍य प्रदेश को 58 नई उड़ानें मिलीं और 314 नए विमानों की आवाजाही से राज्‍य में इनकी संख्‍या 424 से बढ़कर 738 हो गई है। इंदौर पहले केवल 8 शहरों से जुड़ा था लेकिन अब वह 13 शहरों से जुड़ चुका है और इसी प्रकार ग्वालियर का वायु संपर्क भी 4 शहरों से बढ़कर 6 शहरों तक हो गया है।

ग्वालियर अपने खूबसूरत किलों, मंदिरों, मकबरों, संग्रहालयों और महलों के लिए जाना जाता है। वायु संपर्क में बढ़ोतरी से वहां न केवल पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा बल्कि व्यापार और वाणिज्य संबंधी गतिविधियों में भी बढ़ोतरी होगी।

एयर इंडिया समूह वर्तमान में भोपाल, इंदौर, जबलपुर और बिलासपुर से विभिन्‍न गंतव्‍यों के लिए विमानों की उड़ानें संचालित करता है, जिनमें वापसी उड़ानें भी शामिल हैं। एयर इंडिया वर्ष 2019 से इंदौर से दुबई के बीच अंतर्राष्‍ट्रीय मार्ग पर सीधी उड़ान संचालित कर रही थी और अब वह नॉन-स्टॉप कनेक्शन के साथ फिर शुरू हो रही है।

उड़ान कार्यक्रम नीचे उल्लिखित हैं:

इंडिगो ग्वालियर – दिल्ली – इंदौर

उड़ान सं.सेतकआवृत्तिप्रस्‍थानआगमनक्षेत्र नियंत्रण सुविधातिथि से प्रभावी
6ई 7356दिल्‍लीग्‍वालियरप्रतिदिन7:108:10एटीआर1-सितम्‍बर- 21
6ई 7358ग्‍वालियरइंदौरप्रतिदिन8:3010:001-सितम्‍बर- 21
6ई 7359इंदौरग्‍वालियरप्रतिदिन10:2012:001-सितम्‍बर- 21
6ई 7357ग्‍वालियरदिल्‍लीप्रतिदिन12:2013:301-सितम्‍बर- 21

एयर इंडिया इंदौर-दुबई उड़ान कार्यक्रम:

उड़ान सं.सेतकआवृत्तिप्रस्‍थानआगमनतिथि से प्रभावी
एआई0955इंदौरदुबईबुधवार12:3515:051-सितम्‍बर- 21
एआई0956दुबईइंदौरबुधवार16:0520:551-सितम्‍बर- 21