Home StateUttar Pradeshkaushambi चार दशक से ऊसर भूमि पर दबंगों का है कब्जा

चार दशक से ऊसर भूमि पर दबंगों का है कब्जा

by nikhil
9 views

कौशाम्बी :- सिराथू तहसील के चक नियामतपुर गांव में आराजी संख्या 14 15 और 18 पर गांव के गरीबों को आवासीय पट्टा तहसील प्रशासन ने दिया था लेकिन कई वर्ष बीत जाने के बाद भी आवासीय पट्टे पर गांव के गरीब भवन निर्माण नहीं कर पा रहे हैं। जिससे ग्रामीण परेशान हैं।

बीते चार दशक से नियामतपुर गांव में एक परिवार का इस कदर आतंक है। उस परिवार के खिलाफ कोई जुबान नहीं खोल पाते राजस्व खाता विवरण के अनुसार नियामतपुर की सरकारी आराजी खाता संख्या 00049 सरकारी भूमि ऊसर में दर्ज है।

आराजी संख्या की खसरा संख्या 8 ,11 ,14, 15 ,16 ,29,31 ,38 का 44 ,45 ,45 60 ,61 ,70 ,73 94 आदि भूमि ऊसर के नाम दर्ज है।

इसी भूमि के आराजी संख्या 14 15 वा 08 में  सुनीता देवी राज कुमार बृजेश कुमार सुनील कुमार पिंटू लालमन देवमन राजमन सत्यम वर्मा गिरधारीलाल प्रेमचंद विनोद कुमार संजय कुमार विनोद वर्मा रमेश वर्मा राजेंद्र कुमार लालचंद राज बाबू भीम सिंह सहित इक्कीस लोगों को आवासीय पट्टा आवंटित हो चुका है।

लेकिन बीते चार दशक से इस भूमि पर गांव के दबंग जबरिया कब्जा किए हुए और तहसील के राजस्व कर्मी उनसे सरकारी भूमि खाली कराने का साहस नहीं कर पाते हैं।

इलाके में राजस्व की चकबंदी को चार दशक के आसपास बीत चुके हैं और चकबंदी के पूर्व भी इनका सरकारी जमीनों पर कब्जा था जो चकबंदी के समय छोड़ दिया गया लेकिन बाद में फिर इन्होंने सरकारी भूमि पर कब्जा कर रखा है।

मामले की शिकायत पीड़ित ग्रामीणों ने सिंघिया पुलिस चौकी इंचार्ज भी किया लेकिन वहां भी आवासीय पट्टा धारकों की सुनवाई नहीं हो सकी सरकार से पट्टे पर मिली भूमि पर ग्रामीण पौधा रोपण करते हैं।

तो दबंग उसे उखाड़ कर फेंक देते हैं और झगड़ा लड़ाई पर आमदा होते हैं। पीड़ित लोगों ने आज फिर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में शिकायती पत्र देकर दबंगों पर कार्रवाई की मांग की है।

रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

You may also like