चुप्पी तोड़ों अधिकारों से नाता जोड़ों

by nikhil

हमीरपुर :- खरौज व शंकरपुर गाॅव में महिलाओं व किशोंरियो को सखी हेल्पलाइन व हैल्पडेक्स मे माध्यम से किशोरियों व महिलाओं को सेनेटरी पेड, कण्डौम, मास्क व सेनेटाइजर का वितरण किया गया।  समर्थ फाउण्डेशन के देवेन्द्र गाॅधी ने कहा कि महिलाओं व लडकियों को शर्म संकोच नही करना चाहिए।

माहवारी के सुरक्षित प्रबन्धन के लिये जरूरी हैं कि इस मामले में चुप्पीकरण की संस्कृति का त्याग हों। माहवारी शर्म, संकोच का विषय नही है। माहवारी जैविक क्रिया है। इसके सुरक्षित प्रबन्धन के अनेंकों बीमारियों से बचा जा सकता हैं। अपने अधिकारों के लिये महिलाए व लडकियाॅ जागरूक बनें ।


बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय झाॅसी की मास्टर आफ सोशलवर्क की छात्रा निर्मला ने खरौंज व शंकरपुर गाॅव में महिलाओ व लडकियों को सम्बोेधित करते हुए कहा कि महिलाए व किशोरियों की सखी हैल्पलाइन संचालित की जा रही हैं। इस पर जानकारी व परामर्श निशुल्क प्रदान की जाती हैं।

सखी हेल्पलाइन काफी मददगार साबित होगी। उन्होने निशुल्क हैल्पलाइन  18002124471 हैं, जहाॅ पर फोन करके जानकारी सुझाव  प्राप्त कर सकती है। इन हैल्पलाइन पर प्राप्त समस्याओं को सेवा प्रदाताओं से मिलकर समाधान के लिये प्रयास किये जायेगे। यह हैल्पलाइन सुबह 8 बजे से रात्रि 8 बजे तक कार्य करती है।

आंगनवाड़ी कार्यकत्री  उमाकान्ती, आरती बाई, पिंकी, जान्हवी, कंचन, नीतू, शिवरात्रि, रोशनी, किरन, माया, लक्ष्मी, रीतू, सुमन, गिरजा, रामसेवा, शारदा, महेश, फूल कुवर, गिरजेश, ननकी, उर्मिला, पार्वती, जगत प्रकाश, नेहा, प्रेमकुमारी, सरिता, राजकुमारी उपस्थित रही।

Related Posts