जर्जर मकान ढहने से माँ बेटी की हुई मौत , लगभग चार घण्टे चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद दोनों के शवों को निकाला गया

by vaibhav
  • मूसलाधार बारिश के चलते हुआ हादसा, मकान लगभग 100 साल पुराना बताया जा रहा

कानपुर। बरसात आते ही जर्जर मकानों के गिरने का सिलसिला शुरू हो चुका। है। गुरुवार देर शाम मूलगंज थाना क्षेत्र के हटिया बाजार में एक जर्जर मकान बारिश के चलते गिर गया। जिसमें एक महिला और उसकी बेटी मलबे में दब गई। जिसके बाद इलाके में भगदड़ मच गई। स्थानीय लोगो ने आनन फानन में पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुँची पुलिस रेस्क्यू ऑपरेशन में लग गई। लगभग चार घण्टे चले रेस्क्यू के बावजूद माँ और बेटी की जान नही बचाई जा सकी।
हटिया बर्तन बाजार में बारिश के चलते गुरुवार देर शाम लगभग 100 साल पुरानी तीन मंजिला इमारत देखते ही देखते ढह गई। जिसके बाद इलाके में भगदड़ मच गई। हटिया बाजार में किराये पर रहने वाली माँ मीना (50) व बेटी प्रीति (18) मकान के अंदर ही काम कर रही थी। जिससे वह मकान के मलवे में दब गई। इलाकाई लोगो ने आनन फानन में पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना मिलने के बाद डीआईजी समेत आलाधिकारियों ने मौके पर पहुँच कर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया।


अंदर फंसी माँ बेटी को निकालने के लिए नगर निगम, फायर बिग्रेड, आर्मी के साथ एनडीआरएफ की टीम द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर लगभग 4 घंटे में माँ और बेटी को बाहर निकाला गया। मगर मलवे में दबे होने के कारण माँ बेटी की मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही घर मे कोहराम मच गया। वही एसएसपी कानपुर प्रीतिंदर सिंह का कहना है कि 4 घंटे में रेस्क्यू करके माँ बेटी के शव को बाहर निकाल लिया गया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

रिपोर्ट :- कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts