NEWS KRANTI
Latest hindi News Website

- Advertisement -

- Advertisement -

जिला महिला अस्पताल में शिशुओं को बर्थ डोज देने की तैयारी,

11

गोण्डा। माँ यदि हेपाटाईटिस-बी से ग्रसित है, तो नवजात शिशु में इस बीमारी के संक्रमण होने की संभावना 85 से 90 प्रतिशत तक रहती है, अंतर्राष्ट्रीय स्तर की इस समस्या से निपटने व पोलियो, टीबी और हेपाटाईटिस-बी से बचाव हेतु ‘यूनीवर्सल इम्यूनाइजेशन कार्यक्रम’ के अंतर्गत अब प्रसव कक्ष में ही शिशुओं को बर्थ डोज (हेपाटाईटिस-बी, पोलियो और टीबी) का टीकाकरण किया जाना अनिवार्य कर दिया गया है,
यह जानकारी जिला महिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ एपी मिश्र ने शुक्रवार को आयोजित रोगी कल्याण समिति, नियोनेटल डेथ रिव्यू कमेटी व वैलीडेशन कमेटी की बैठक के दौरान दी, उन्होंने बताया चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के टीकाकरण अनुभाग से देश भर में जारी एक प्रोटोकॉल के माध्यम से यह निर्देश दिया गया है कि नवजात शिशुओं को गंभीर रोगों से बचाव हेतु जन्म के उपरान्त 24 घंटे के भीतर बर्थ डोज (हेपाटाईटिस-बी, पोलियो और टीबी) का टीकाकरण किया जाना अनिवार्य है,
उन्होंने कहा शासन के निर्देशानुसार सभी नवजात शिशुओं को समय से ये टीके लगा दिए जायें, इस हेतु अस्पताल के प्रसव कक्ष में तैनात स्टाफ नर्स व एएनएम को प्रशिक्षित कर उनका अभिमुखिकरण कर दिया गया है, साथ ही प्रसव कक्ष में एक घरेलू फ्रिज रखी गयी है, जिस पर “बर्थ डोज वैक्सीन ओनली” का लेबल लगाया है तथा इसमें उक्त तीन वैक्सीन के अलावा कोई भी अन्य दवाई या सामग्री न रखने के लिए स्टाफ को लिखित निर्देश भी दिया गया है,
इस मौके पर बाल रोग विशेषज्ञ डॉ राम लखन ने बताया नवजात शिशु को हेपाटाईटिस-बी, पोलियो और बीसीजी का बर्थ डोज देना अत्यंत आवश्यक है, शिशु को दी गयी बर्थ डोज टीकाकरण का अंकन स्टाफ द्वारा एमसीपी कार्ड में, केसशीट, डिस्चार्ज स्लिप तथा लेबर रूम रजिस्टर पर किया जाना जरूरी है, यदि माँ को 24 घंटे के भीतर डिस्चार्ज किया जा रहा है तो यह सुनिश्चित कर लिया जाए कि नवजात शिशु को बर्थ डोज दी जा चुकी है, यदि किसी नवजात का जन्म अन्य किसी संस्था में हुआ है तथा उसे बर्थ डोज न दी गयी हो, तो माता-पिता अपने बच्चे का जल्द से जल्द टीकाकरण करायें तथा आगामी टीकाकरण का समय अवश्य याद रखें,

- Advertisement -

राहुल तिवारी की रिपोर्ट

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.