कन्नौज । कलक्ट्रेट से सटे हौदापुरवा गांव में बीती रात पत्नी से झगड़ा हुआ तो उसकी मां भी दामाद से लड़ने लगी। इससे आजिज आकर युवक ने हंसिया से दोनों पर वार कर दिए और दोनों को घायलावस्था में छत से नीचे फेंक दिया, जिससे उनकी मौत हो गई। हत्यारोपी ने खुद ही कोतवाली पहुंच कर अपना जुर्म कबूला तो पुलिस कर्मी सन्न रह गए।

दरअसल सदर कोतवाली क्षेत्र के तिर्वा रोड स्थित हौदापुरवा गांव निवासी पवन उर्फ मुरारी की शादी करीब छह साल पहले कानपुर जनपद के शिवराजपुर थाना क्षेत्र के शाहपुरमाला गांव निवासी 24 वर्षीय सविता से हुई थी। शादी के तुरन्त बाद ही पत्नी सविता घर में झगड़ा करने लगी। आए दिन दोनों के बीच विवाद होता था। पति पर दबाव बनाने के लिए पत्नी सविता को उसकी मां कलावती भड़काया करती थी। बताया गया कि कुछ दिन पहले ही झगड़ा कर के पत्नी अपने मायके चली गई थी और दो दिन पहले ही वह अपनी मां को लेकर हौदपुरवा गांव स्थित अपनी ससुराल आई थी।

रात में पति-पत्नी के बीच फिर कहा सुनी हुई तो युवक की सास कलावती अपनी बेटी का पक्ष लेते हुए दामाद से लड़ने लग गई। इससे उत्तेजित होकर पवन ने कोने में पड़ा हंसिया उठा लिया तो बचने के लिए सविता और उसकी मां कलावती छत पर पहुंच गईं। जहां पवन ने दोनों को हंसिया मारकर बुरी तरह घायल कर दिया और फिर घसीट कर छत से नीचे फेंक दिया। जिससे दोनों की मौके ही मौत हो गई। इसके बाद हत्यारोपी पवन खुद ही खून से सना हंसिया लेकर कोतवाली पहुंच गया। जब उसने पुलिस को बताया कि उसने अपनी ही सास व पत्नी का मर्डर किया है तो सब सन्न रहे गए। पुलिस ने पवन को हिरासत में लिया और घटनास्थल पर ले आई। सूचना मिलते ही सीओ सिटी शेषमणि उपाध्याय भी मौके पर पहुंच गए। कोतवाल विकास राय ने भीड़ से3 घटना को लेकर पूछताछ की और दोनों शवों को कब्जे में लेकर उनके परिजनों को सूचना कर दी।

रिपोर्ट -:- सौरभ दुबे