Home StateMadhya Pradesh ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर के द्वारा लगेगी अपराधों पर लगाम

ट्रैकिंग सॉफ्टवेयर के द्वारा लगेगी अपराधों पर लगाम

by nikhil
10 views

विदिशा (मध्य प्रदेश) :- प्रशिक्षण में जिले के पुलिस अधीक्षक  विनायक वर्मा (भापुसे)अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  के एल बंजारे, समस्त राजपत्रित अधिकारी, एफएसएल अधिकारी, पुलिस समस्त थाना प्रभारी एवं हनीवेल सॉफ्टवेयर कंपनी के इंजीनियर सचिन थॉमस डीजी माइंड सॉफ्टवेयर कंपनी के इंजीनियर राजेश साहू उपस्थित थे!
प्रशिक्षण के प्रथम सत्र में CCTNS (क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क सिस्टम) के द्वारा CCTV(क्लोज सर्किट टेलीविजन) के द्वारा चोरी गए वाहनों को पकड़ना, संदिग्ध वाहनों का पता लगाना, बिना नंबर के वाहन के मालिक का पता लगाना, अन्य प्रांतों के वाहनों का पता लगाना, एक नंबर के वाहनों का पता लगाना, तीव्र गति वाहनों को पकड़ना, आदि पर गहन  अध्ययन एवं सूक्ष्म प्रशिक्षण दिया गया ! इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए की बिना वाहन  के कोई भी अपराध संभव नहीं है अतः सघन वाहन चेकिंग की जाए जिससे चोरी के वाहन पकड़े जा सकते हैं, शराब तस्करी पर रोक लगाई जा सकती है, क्योंकि चोरी के वाहन से ही अपराध संपादित किए जाते हैं जैसे चैन स्नैचिंग, चोरी , लूट, गुंडागर्दी इत्यादि
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा घोषणा की गई कि व्हीकल डिटेक्शन पोर्टल के माध्यम से जो थाना प्रभारी सर्वप्रथम चोरी के वाहन को पकड़ेगा उसे ₹10000 का नगद इनाम, दूसरे नंबर पर जो वाहन पकड़ेगा उसे ₹7500 एवं तीसरे नंबर पर जो चोरी का वाहन पकड़ेगा उसे ₹5000 इनाम दिया जाएगा।
द्वितीय सत्र में जिले की अपराध समीक्षा बैठक आयोजित की गई जिसमें सर्वप्रथम पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा सभी थाना प्रभारी गण को कोरोनावायरस से निपटने के लिए बहुत-बहुत शुभकामनाएं और बधाइयां दी और कहा कि जिले के पुलिस फोर्स द्वारा लॉक डाउन के दौरान 2 माह से लगातार विपरीत परिस्थितियों में रहकर अपने कर्तव्य का निर्वहन किया जा रहा है जिसकी वजह से आज विदिशा जिले में कोई अप्रिय घटना घटित नहीं हुई है और भविष्य में कोरोनावायरस ने के लिए सावधानी बहुत आवश्यक है इसका विभिन्न पहलुओं पर ध्यान रखने के निर्देश प्रदान किए गए ! अपराध समीक्षा बैठक में जिले के लंबित गंभीर अपराधों पर थाना बार और अपराध बार समीक्षा की गई लंबित गुम इंसान, लंबित मर्ग, एवं महिला अपराधों पर विशेष फोकस किया गया लोक डाउन के दौरान अधिक से अधिक गिरफ्तारी एवं जमानती वारंटो की तामिली पर भी दिशा निर्देश प्रदान किए गए अवैध शराब बिक्री एवं सट्टा जुआ पर 100% अंकुश लगाने के निर्देश दिए गए लॉक डाउन के समाप्ति के उपरांत क्या क्या सावधानियां आवश्यक है एवं किस प्रकार के अपराधों में वृद्धि हो सकती है इस विषय पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

You may also like