डीएम ने विकास भवन व डीएसओ कार्यालय का किया औचक निरीक्षण

by rahul
25 views

गोंडा:- शासन के निर्देशों के क्रम में बुधवार को जिलाधिकारी डाॅ0 नितिन बंसल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने सरकारी दफ्तरों का औचक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने स्वयं सुबह साढ़े 09 बजे जिला पूर्ति कार्यालय व विकास भवन के विभिन्न कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय में उपस्थित रहे। निरीक्षण में पाया गया कि कार्यालय में कर्मचारियों द्वारा सोसल डिस्टेंसिग का अनुपालन किया जा रहा है। मौके पर सेनेटाइजर/साबुन की व्यवस्था सुचारू रूप से पायी गयी।
निरीक्षण के लिए पहुंचे जिलाधिकारी ने सबसे पहले उपस्थिति पंजिका का अवलोकन किया, जिसमें कार्यालय के सभी कर्मचारी उपस्थित पाए गए। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कार्यालय में पत्राविलयों का रख रखाव ठीक प्रकार से कराकर पत्रावलियों की वीडिंग के सम्बन्ध में तीन दिवस के अन्दर कार्यवाही करते हुए अवगत कराने के निर्देश दिए।
राशन कार्डों की स्थिति के बारे में जानकारी लेने पर डीएसओ द्वारा डीएम को अवगत करया गया कि जनपद में प्रत्येक राशनकार्डो में सत्यापन के सापेक्ष आधार सीडिंग 94.43 प्रतिशत है तथा आधार सीडिंग कार्य को पूर्ण करने के लिए निरस्तर प्रयास किया जा रहा है। प्रतिदिन जो आधार सीडिंग हेतु प्राप्त हो रहे हैं, उन्हें सीड कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने डीएसओ को निर्देशित किया कि आधार सीडिंग कार्य को विशेष प्राथमिकता में रखे व पूर्ण करायें। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कार्यालय में प्रत्येक दशा में सोशल डिस्टेन्सिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय।
डीएसओ आफिस का निरीक्षण करने के बाद जिलाधिकारी द्वारा विकास भवन स्थित विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण किया गया। जिलाधिकारी ने सीडीओ के साथ डीडीओ कार्यालय, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग कार्यालय, पंचायतीराज अधिकारी, डीसी मनरेगा दफ्तर, पीडी कार्यालय सहित अन्य कार्यालयों का निरीक्षण किया तथा आवश्यक निर्देश दिए।
वहीं डीएम के निर्देश पर एडीएम रोकश सिंह व सिटी मजिस्ट्रेट वन्दना त्रिवेदी ने कलेक्ट्रेट स्थित विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण किया। एडीएम के निरीक्षण में 05 कर्मचारी अनुुपस्थित मिले। अनुपस्थित मिलने वाले कर्मचारियों में वीडर ईआरके, सहायक स्वागती कलेक्ट्रेट, प्रतिलिपिक न्यायिक अभिलेखागार, सहायक सांख्यकीय अधिकारी भूलेख तथा भूलेख लिपिक मनोज शुक्ला पटल से अनुपस्थित मिले। अनुपस्थित पाए कर्मचारियों के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने शासन को पत्र भेजा है। इसके अतिरिक्त सिटी मजिस्ट्रेट वन्दना त्रिवेदी द्वारा एलबीसी, जेआरके, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी कार्यालय, विनियमित क्षेत्र कार्यालय, रीडर नगर मजिस्ट्रेट, नजूल अनुभाग व नाजिर सदर से सम्बन्धित विभिन्न पटलों का औचक निरीक्षण किया गया।

रिपोर्ट राहुल तिवारी जिला संवाददाता गोंडा

Related Posts