NEWS KRANTI
Latest News In Hindi

डीएम ने हाईस्कूल की स्मार्ट क्लासेज का फीता काट किया शुभारंभ

23
खबर-मनोज कुमार शिवहरे

कालपी (जालौन)। कालपी परगना महेवा ब्लॉक क्षेत्र के ग्राम मंगरौल में माध्यम एवं बेसिक शिक्षा विभाग के प्रयास से नवाचार योजना (किशोरी शिक्षा समाधान) के अंतर्गत सरकार की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के क्रम में 2 जुलाई शाम 3 बजे जिलाधिकारी डा. मन्नान अख्तर ने मंगरौल मंे हाईस्कूल तक की पंचवती राजबहादुर हाईस्कूल शेखपुर गुढा में अटैच करके वैकल्पिक व्यवस्था का उदघाटन किया था जिसमें जिलाधिकारी ने 18 जुलाई दिन ब्रहस्पतिवार को 2 बजे लावलश्कर के साथ पहंुच कर जिले में प्रथम बिद्यालय में स्मार्ट क्लासेज का शुभारम्भ किया। आपको बताते चलें 8 मार्च को जिलाधिकारी ने पत्नी सहरिश अख्तर के साथ महिला दिवस के मौके पर ब्लाक क्षेत्र के ग्राम मंगरौल मंे जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे कार्यक्रम का आयोजन हुआ था जिसमें उन्हांेने स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को शासन की योजनाओं की जानकारी देकर स्व- रोजगार के टिप्स दिये थे तभी सभी महिलाओं तथा पुरुषों ने एक राय होकर यहां इण्टर तक विद्यालय की मांग की थी क्योंकि जो लड़किया 8 पास करने के बाद उनकी शिक्षा यही खत्म हो जाती है जिसको गंभीरता से लेकर फाइल स्वीकृत कर ऊपर भेज दी है जो दिसम्बर तक स्वीकृति हो जायेगी इसके बाद जुलाई तक भवन बन जायेगा। तब तक जिला प्रशासन अपने खर्चे से हाई स्कूल की वैकल्पिक हाई ट्रेक व्यवस्था की गई है जिसमें तीन टीचरों मंे सुनील, रूपम, श्यामबाबू की तैनाती की गई है जो विद्यालय में लगे कम्प्यूटर और रिफ्लेक्टर के माध्यम से बच्चों को पढ़ायेंगे। उदघाटन के लिए सभी स्कूलों को पूरी तरह से कायकल्प किया गया था। वही विद्यालय में कक्षा 9 में अफसाना पुत्री दरोगा, राधा शर्मा पुत्री रामू शर्मा, काजल पुत्री धरम सिंह, मुस्कान पुत्री प्रकाश, सुर्य प्रताप पुत्र रणकेन्द्र सिंह, शिवांगी पुत्री देवेन्द्र, रंगोली पुत्री शंकर, पंकज पुत्र प्रहलाद, शिवानी पुत्री अरविंद, राधा पुत्री प्रहलाद सहित 43 छात्राओं ने दाखला लिया है जिन्हें जिलाधिकारी ने बेग वितरित किये बेग पाकर बच्चों की खुशी देखते बनती थी।वही जिलाधिकारी तथा अपर जिलाधिकारी ने 9 की छात्राओं को किताबे वितरित की थी। जिस पर जिलाधिकारी ने प्रधान पति रामसेवक से जमीन के बारे मैं बात की और उसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने मंगरौल को इतनी बड़ी सौगात दी है जिसकी क्षेत्रीय लोगों ने कल्पना तक नही की थी क्योंकि उन्होंने मंगरौल को एक स्मार्ट क्लासेज विद्यालय दिया। वही कार्यक्रम के दौरान जिला अधिकारी ने कहा कि अभिभावकों को इस विद्यालय में सहयोग करने की आवश्यकता है क्योंकि लोग सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाते वही अपनी सम्पत्ति को संभाल कर रखते इसी तरह इस विद्यालय को मंगरौल बासी अपना समझे जिससे यह विद्यालय सुचारु रूप से चलता रहे वही जिलाधिकारी ने बताया कि यह विद्यालय खोलने के पीछे हमारी पत्नी की बिशेष इच्छा थी जिस कारण यह विद्यालय खुला क्योंकि हर कामयाबी के पीछे एक महिला का हाथ होता हैं। वही अध्यापकों ने बिजली न आने की बात कही तो उन्होंने पूछा कहा से बिजली आती उपस्थित लोगों ने बताया कि महेवा से। वही जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने भी संबोधित किया और कहा कि इस विद्यालय का सभी लोग समर्थन करे जिससे इसमें कोई बाधा उत्पन्न न हो वही बच्चों को सामान्य धारा से स्मार्ट धारा में ढालने के लिये अध्यापकों को कड़ी मेहनत करनी होगी। जिलाधिकारी डा. मन्नान अख्तर, खण्ड शिक्षा अधिकारी महेवा आनन्द भूषण, जिला विद्यालय निरीक्षक भगवत पटेल, एडीओ पंचायत हरेन्द्र सिह, एडीओ पुष्पेन्द्र त्रिपााठी, ग्राम प्रधान ज्ञानवती, पंचायत सचिव सन्दीप गुप्ता, उमेश कुमार, कमल सैनी, मान्धाता सिंह, मीरा वर्मा, आर्यकन्या पाठशाला इण्टर कालेज प्रधानाचार्य नुजहत जहां, ज्योति शुक्ला, नृपत सिंह यादव, मोनी राय, सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे। उदघाटन समारोह के बाद जिलाधिकारी ने विद्यालय परिसर में वृक्षारोपण किया जिसमें उन्होंने कहा कि वृक्ष लगाना बहुत जरूरी है जिससे धरती हरि भरी रखनी है वातावरण को संतुलित रखता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.