NEWS KRANTI
Latest hindi News Website

- Advertisement -

तहसील सभागार मे अन्ना जानवरों को लेकर मीटिंग की गई आयोजित

13
माधौगढ़ -उपजिलाधिकारी माधौगढ़ की अध्यक्षता में गौशाला को लेकर मीटिंग आयोजित की गई जिसमें ग्रामों के सभी ग्राम प्रधान , बी डी सी ,सचिव , लेखपाल व अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे इस बैठक का मुख्य उदेश्य अन्ना जानवरों को लेकर रहा जिसमे किसानों की हो रही फसल वृष्टि यातायात के मार्गों पर आये दिन हो रही दुर्घटनाएँ उपजिलाधिकारी ने इस संबंध मे अवगत कराते हुए बताया कि शासनादेश के अनुसार ग्राम प्रधानो द्वारा गौशाला को कार्य पूरा किया जाये इसके साथ ही लेखप‍ाल व सचिव गौ शाला की जगह देख परख कर सुनिश्चित करें व बनायी गयी गौशाला मे विवादीय संबंध न दर्शाया गया हो क्षेत्राधिकारी माधौगढ़ राहुल पाण्डेय ने इस बात पर दृष्टि डालते हुए बताया कि अपनी पालतू गायों को अन्ना जानवरों श्रेणी मे न छोड़े जो आये दिन फसल वृष्टि व दुर्घटना का कारण बन जाता है माधौगढ़ कोतबाल जेपी पाल ने अन्ना जानवरों को लेकर बताया कि जो लोग पालतू गायों को दूध खा कर उन्हे छोड़ देते है फिर वही जानबर किसानों की फसल वृष्टि व यातायात मे हो रही दुर्घटनाओं का गंभीर कारण बन जाता है इस बात की जानकारी प्राप्त होने पर उन लोगों पर जो पालतू गायों को दूध खा कर छोड़ देते हेेै एेसे लोगों पर शासनादेश के अनुसार कानुनी कार्यवाही की जायेगी तहसीलदार (प्रेमनारायण प्रजापति ) ने अन्ना जानवरों को लेकर कुछ विशेष सुझाव भी दिये उन्होंने बताया कि जो किसान पालतु गायों को रखे हुए है उन्हें दूध खा कर फालतु न छोड़े किसान अपनी रबि फसलों को बो कर उनकी कटाई करने के बजाह हारबेस्टर से कटबा देते है जानवरों के लिये पर्याप्त भूसा भी नही बनवा पाते और फिर जानवरों को अन्ना छोड़ देते है और हारबेस्टर से कटी हुई फसल को आग लगा देते है जिसमे किसानों का भारी नुकसान होता है आग लगाने से जमीन की उर्बरा शाक्ति क्षीण हो जाती है जो हमारी फसल को अच्छा बनाते है वह कीटाणु भी नष्ट हो जाते है । संवाददाता::मनोज कुमार शिवहरे
Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.