Home StateUttar PradeshGonda थानाध्यक्ष धानेपुर सम्मान पा कर भूले शारीरिक दूरी

थानाध्यक्ष धानेपुर सम्मान पा कर भूले शारीरिक दूरी

by rahul
11 views

धानेपुर/गोण्डा:- देश की जनता इस समय कोरोना महामारी के खिलाफ जंग लड़ रही है इस लड़ाई में इस महामारी से बचने के लिए सबसे उचित तरीका शारीरिक दूरी बना कर रखना है इसी में लोगों की भलाई है । यही कारण है कि भारत सरकार के द्वारा लॉक डाउन 1 से लेकर 4 तक में दिए गए दिशा-निर्देशों में सबसे महत्वपूर्ण कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए शारीरिक दूरी बनाकर रखना व मास्क का प्रयोग करने के लिए बताया गया है । इस महामारी में लोगों की सेवा में लगे में लगे जगह-जगह से लोग डॉक्टर ,पुलिस ,सफाई कर्मी मीडिया कर्मी आदि लोगों को कोरोना योद्धा के रूप में सम्मानित भी कर रहे हैं । शासन प्रशासन द्वारा इस महामारी के दौरान भारत सरकार के द्वारा जारी दिशा निर्देशों का शत-प्रतिशत पालन कराने के लिए हमेशा तत्पर है वही गोंडा जनपद के थाना अध्यक्ष संतोष तिवारी लॉक डाउन में गजब ढा रहे हैं सम्मान पाकर वह लोगों को सीने से लगा रहे हैं ऐसे में विभाग उनसे क्या उम्मीद करें कि वह अपने क्षेत्र में इस महामारी के दौरान भारत सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार लोगों को शारीरिक दूरी बनाकर रखने को मजबूर कर पाएंगे ।

बताते चले कि हमारे प्रधानमंत्री ने एक सार्वजनिक कार्यक्रम में लोगों को एक मंत्र दिया था ” दो गज दूरी, बहुत है जरूरी ” उनके कहने का मतलब था कि इस महामारी के दौरान लोगों को साथ हमें शारीरिक दूरी बढ़ानी है ना कि सामाजिक इसी में हम लोगों की भलाई है तभी हम इस जंग को जीत सकते हैं ।

क्या है पूरा मामला

कोरोना वायरस के दौरान पूरे देश में लोगों की सेवा में लगे कोरोना योद्धाओं को सम्मानित करने का कार्य किया जा रहा है । इसी क्रम में गोंडा जनपद के थाना धानेपुर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा 24 घंटे जनता की सेवा में समर्पित रहने वाले पुलिसकर्मियों को माला व फूल पहनाकर स्वागत कर सम्मानित करने का कार्य किया गया ।

लेकिन यह क्या

वहां के थानाध्यक्ष संतोष तिवारी द्वारा भारत सरकार द्वारा इस महामारी में जारी दिशा निर्देशों को ठेंगा दिखाते हुए सम्मान करने वालों को ही सीने से लगाने का कार्य किया गया ।

सवाल यह उठता है कि जब एक जिम्मेदार व्यक्ति अपने कर्तव्यों का निर्वहन जिम्मेदारी पूर्वक नहीं कर सकता है तो वह दूसरों से कैसे करा सकता है ।

संतोष तिवारी कि एक व्यक्ति के साथ लिपटने वाली फोटो सोशल मीडिया पर आते ही लोग इनके द्वारा शारीरिक दूरी ना बनाने को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं करते हुए पाए गये लोगों का कहना था कि —
“ई साहब साहब गजब ढा रहे हैं, सम्मान पाकर वह उनको सीने से लगा रहे हैं” ।

क्या कहते हैं थानाध्यक्ष संतोष तिवारी

शारीरिक दूरी बनाने को लेकर के थानाध्यक्ष संतोष तिवारी से दूरभाष पर जब जानकारी दी गई तो उन्होंने बताया कि इस तरह का कोई भी फोटो नहीं हुआ है हम लोगों के द्वारा लोगों से शारीरिक दूरी बनाने का प्रयास कराया जा रहा है ।
अब तो “यह थाना परिसर के अंदर का फोटो झूठ बोल रहा है या थानाध्यक्ष तिवारी जी ” सच क्या है यह तो वही जान सकते हैं जो सोचनीय विषय है ।

रिपोर्ट राहुल तिवारी जिला संवाददाता गोन्डा

You may also like