श्रावस्ती/बलरामपुर
उत्तर प्रदेश स्ववित्तपोषित विद्यालय प्रबंधक प्रधानाचार्य महासंघ की निजी स्कूलों की समस्याओं को लेकर इकौना के सत्या द आर्यन इंटर कॉलेज में प्रबन्धक तुसार सत्या की मौजूदगी में बैठक आयोजित की गई बैठक में डेढ़ साल से स्कूल बंद होने के कारण प्रबन्धक प्रधानाचार्य शिक्षक कर्मचारी के आर्थिक तंगी से निजात दिलाने एवं अन्य समस्याओं पर विस्तार से बनी बनाई गई
बैठक की अध्यक्षता महासंघ के सयोजक डॉ अविनाश पाण्डेय अध्यक्ष डॉ एमपी तिवारी व संरक्षक डॉ नितिन शर्मा मे करते हुए कहा कि जिस तरह से महामारी के कारण निजी स्कूल सफर कर रहा है उस तरह से शायद ही कोई प्रभावित हुआ होगा संरक्षक डॉ नितिन शर्मा ने कहा कि निजी स्कूल जब तक एकजुट नहीं होंगे तब तक उनकी समस्याएं बरकरार रहेंगी संयोजक डॉ अविनाश पांडे ने कहा कि डेढ़ साल से आर्थिक तंगी से जूझ रहे निजी स्कूल के प्रबंधक प्रधानाचार्य शिक्षक कर्मचारियों की सुध लेने वाला कोई नहीं है शासन के प्रत्येक कार्यों में कदम से कदम मिलाकर चलने वाले निजी स्कूल आज आर्थिक तंगी के शिकार हैं और शासन प्रशासन की तरफ से कोई सहयोग ना मिलना निश्चय ही उन्हें नजरअंदाज किया जाना है उपाध्यक्ष वीर गौरव सिंह ने कहा कि अब समय आ गया है निजी स्कूलों को एकजुट होकर अपनी ताकत का एहसास कराना जब तक अपनी शक्ति का एहसास नहीं कराएंगे तब तक शासन प्रशासन निजी स्कूलों के अरमानों को कुचलता रहेगा और आर्थिक तंगी के मुंह में झोंकता रहेगा
बैठक में सचिव डॉक्टर पम्मी पांडे ने शासन से निजी स्कूलों को आर्थिक सहायता के साथ-साथ कोविड-19 महामारी के दौरान बंद रहे विद्यालय के बिजली का बिल माफ करने वाहनों का बीमा फिटनेस आगे बढ़ाने सहित अन्य समस्याओं को गंभीरता से लेने की मांग की है सत्या द आर्यन इंटर कॉलेज के प्रबन्धक तुषार सत्या ने कहा कि महासंघ के बनने से निजी स्कूलों को एकजुट होने में बल मिलेगा और अपनी समस्याओं को एक फोरम पर रखने का अवसर मिलेगा साथ ही साथ उसके समाधान कभी रास्ता खुलेगा इस दौरान असलम शेर खान अंसार अहमद समीर रिजवी रीता चौधरी आदि महासंघ पदाधिकारी मौजूद रहे हैं।