NEWS KRANTI
Latest hindi News Website

- Advertisement -

पंचायतों में महिलायों की सक्रिय भगीदारी के लिए करेगी कार्य

9
उरई। पंचायतों में आरक्षण के बाद निर्वाचित होकर आयी महिला जनप्रतिनिधियों की कार्यों व बैठकों में सक्रिय भागीदारी के उद्देध्य से सामाजिक कार्यकर्ता सारिका तिवारी आंनद को पंचायत सशक्तिकरण अभियान का प्रदेश महासचिव बनाया गया है ।सारिका अब प्रदेश भर में पंचायतों पर महिलायों की सक्रिय भागीदारी के कार्य करेगी।ग्राम पंचायत सशक्तिकरण संस्थान के द्वारा ग्राम पंचायतों की दिशा और दशा परिवर्तन सम्बन्धी चलाये जा रहे अभियान ” पंचायत सशक्तिकरण अभियान ” में सारिका तिवारी को प्रदेश के महासचिव पद की जिम्मेदारी दी गयी है। सारिका महिला सशक्तिकरण कि दिशा में सोशल मीडिया पर बड़ा अभियान चलाती रही है तथा मतदाता जागरूकता सहित बिभिन्न सामाजिक सरोकारों से जुड़ी रही है।अभियान के प्रदेश अध्यक्ष अमित द्विवेदी इतिहास ग्राम पंचायतो पर अध्ययन और शोध कर रहे हैं ।वह देश बिदेश में बिभिन्न सम्मान प्राप्त करने के साथ ही निरन्तर पंचायत सम्बन्धी कार्यक्रमों से जुड़े रहते हैं ।अभी हाल ही में इस अभियान को गति देने के उद्देश्य से बिलेज पंचायत एम्पावरमेन्ट इंस्टिट्यूट की भी शुरुवात की गई है ।सारिका तिवारी ने बताया कि प्रदेश में करीब उनसठ हजार ग्राम पंचायतें है। हर बार बीस हजार महिलाये ग्राम प्रधान के रूप में चुन कर आती है, लेकिन उनकी कार्यों, बैठकों तथा कार्यक्रमों में भागीदारी का प्रतिशत न के बराबर ही है, जो सोचनीय व चिंतनीय है।पंचायतों में महिलायों के आरक्षण को मजाक सा बना दिया है ।उन्होंने कहा कि आश्चर्य होता है इस बात पर की पंचायत महिला जनप्रतिनिधियों को दरकिनार किनार कर धड़ल्ले से सभी कार्य उनके परिजन कर रहे है, और इस बात पर कभी न तो नेतायों ने चिंता जताई और न ही प्रशासन ने कारगर प्रयास किये ।अब वह इस अभियान में इस बात के लिये अभियान चलाएगी, जिससे पंचायतों में महिला जनप्रतिनिधियों की सक्रिय भागीदारी हो सके। संवाददाता-प्रदीप कुमार
Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.