पकड़े गए जुआरियों का एक सप्ताह बाद भी नहीं हुआ चालान 

by News Desk
12 views

कौशाम्बी। पइंसा थाना पुलिस का भी खेल निराला है और वह अपराधियों को अपनी मनमर्जी पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेजती है। आला अधिकारियों के निर्देशों का पालन करना पैसा पुलिस अपनी जिम्मेदारी नहीं समझती है। 7 सितंबर को जुए की फड़ से रकम ताश के गड्डी सहित आधा दर्जन से अधिक जुआरियों को पैंसा पुलिस गिरफ्तार कर थाना लाई थी जिस स्थान पर पैंसा पुलिस ने छापेमारी कर जुए के धंधे का खुलासा किया था। यह धंधा नाल निकाल कर जुआ संचालकों द्वारा खिलवाया जाता है। जुआ संचालक एक सफेदपोश नेता बताया जाता है जिसका थाने में उठना बैठना है।

इस जुआ फड़ के संचालन की बार-बार ग्रामीणों ने शिकायत की थी अधिक दबाव के चलते जुआ फड़ तक पैंसा पुलिस पहुंची तो और वहां से जुआ खेलते ताश के गड्डी नगदी सहित आधा दर्जन लोगों को पुलिस गिरफ्तार कर लाई। शुरू में तो पुलिस इस कदर तेजी दिखा रही थी कि जैसे उसने बहुत बड़े अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन गिरफ्तार अपराधियों को 7 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को अभी तक जेल नहीं भेजा है।

जिससे पुलिस के कार्यों पर सवाल उठना लाजमी है और जुआरियों को फड़ से पकड़ने के सात दिन बाद भी उन्हें जेल ना भेजने के मामले में यदि आला अधिकारियों ने जांच कराई तो पैंसा पुलिस के अपराधियों से गठजोड़ का खुलासा होना तय है लेकिन क्या इस जुए के फड़ के मामले को आला अधिकारी गंभीरता से लेकर पैंसा पुलिस पर कठोर कार्रवाई करेंगे।

रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

Related Posts