कौशाम्बी :- करारी कोतवाली के बंधुरी रसूलीपुर गांव में बुधवार को अपने पूर्वजों की कब्रिस्तान पर फातेहा पढ़ने गए बाप-बेटे की गांव के दबंगो ने जमकर पिटाई किया। लोगों के बीच बचाव करने पर पिता-पुत्र की जान बची। मामले की शिकायत पीड़ित ने स्थानीय पुलिस से की है। पुलिस घटना की जांच कर रही है।


करारी कोतवाली के अर्का महावीरपुर चौकी क्षेत्र के बंधुरी रसूलीपुर गांव के बच्चन अली ने बताया कि बुधवार को वह अपने बेटे मो शमशाद के साथ अपने पूर्वजों की कब्रिस्तान पर फातेहा पढ़ने गया था। वहां पर कुछ लोग जानवर चरा रहे थे। कब्रिस्तान के आस-पास गंदगी देख पीड़ित ने वहां पर जानवर चराने से मना किया।

इस पर आरोपी गयादीन पुत्र बबई अपने तीन चार साथियों समेत पीड़ित के पास पहुंचकर गाली-गलौच करने लगा। विरोध करने पर बाप-बेटे की लाठी डंडे व लात-घूंसों से बेरहमी से पिटाई कर दिया। लोगों के बीच बचाव करने पर पिता-पुत्र की जान बची। पीड़ित ने घटना की शिकायत स्थानीय थाने में की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


रिपोर्ट श्रीकान्त यादव