Home StateMadhya Pradesh प्रधानमंत्री के खिलाफ दुष्प्रचार सहन नहीं किया जाएगा

प्रधानमंत्री के खिलाफ दुष्प्रचार सहन नहीं किया जाएगा

by nikhil
9 views

भोपाल :- कांग्रेस और उसके नेता प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी की छवि खराब करने के लिए लगातार दुष्प्रचार कर रहे हैं और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी की यह करतूत भी ऐसा ही प्रयास है। भारतीय जनता पार्टी देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ दुष्प्रचार को किसी भी कीमत पर सहन नहीं करेगी।



प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को अपने अधीनस्थ की इस करतूत के लिए देश और प्रदेश की जनता से सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।


यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने पूर्व मंत्री जीतू पटवारी द्वारा ट्विटर पर प्रधानमंत्री के हवाई जहाज की फोटो बताकर शेयर की गई तस्वीर को पीआईबी फैक्ट चैक द्वारा फर्जी बताए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।



वहीं, प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने प्रधानमंत्री के खिलाफ दुष्प्रचार करने वाले लोगों पर कार्रवाई के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान एवं केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह को पत्र लिखने की बात भी कही है।



श्री शर्मा ने कहा कि देश की जनता के सामने कांग्रेस पहले ही बेनकाब हो चुकी थी, अब तो वह वैचारिक स्तर पर कंगाल भी हो चुकी है।
नए भारत के लोगों की इच्छा और आकांक्षा के अनुरूप कांग्रेस के पास कोई नीतियां या कार्यक्रम नहीं है और अपनी राजनीति को जिंदा रखने के लिए कांग्रेस के पास झूठ ही इकलौता हथियार रह गया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यह वैचारिक कंगाली वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले ही दिखाई देने लगी थी, जब कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की छवि को खराब करने के लिए झूठ बोलने का अभियान शुरू किया था।


वही राहुल गांधी जो अदालत में झूठ बोलने के लिए माफी मांगते थे, बाहर आकर पूरी निर्लज्जता के साथ फिर झूठ फैलाना शुरू कर देते थे।
हालांकि देश की जनता ने झूठ के इन उपासकों को लोकसभा चुनाव में यह स्पष्ट दे दिया था कि झूठ बोलकर न किसी की छवि को गढ़ा जा सकता है और न ही किसी अन्य व्यक्ति की छवि को खराब किया जा सकता है।


इसके बावजूद कांग्रेस और उसके नेता झूठ फैलाने में ही लगे हुए हैं।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और उसके नेताओं की छवि खराब करने की हड़बड़ी में ये नेता यह भी भूल जाते हैं कि जिस पुल की फोटो वे शेयर कर रहे हैं, वह पाकिस्तान का है, जिस सड़क की बदहाली दिखा रहे हैं, वो बांग्लादेश की है और जिस लक्जीरियस विमान की फोटो को वो प्रधानमंत्री के विमान की बता रहे हैं, वो एक प्राइवेट ड्रीमलाइनर की है।



श्री शर्मा ने कहा कि फैक्ट चैक में फोटो के फर्जी पाए जाने पर सिर्फ ट्वीट को डिलीट कर देना काफी नहीं है, बल्कि इस कुत्सित प्रयास की जिम्मेदारी लेते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए और जीतू पटवारी के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

You may also like