Home StateUttar PradeshLakhimpur Kheri प्रधान पर लगाया भ्र्ष्टाचार का आरोप

प्रधान पर लगाया भ्र्ष्टाचार का आरोप

by nikhil
221 views

लखीमपुर खीरी :-  सम्पूर्णानगर पड़ोसी जिले पीलीभीत के हजारा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत मुरैना गाँधीनगर के दर्जनों ग्रामीणों ने जिलाधिकारी पीलीभीत को प्रार्थना पत्र देकर ग्रामप्रधान पर आरोप लगाते हुए कहा आवास पात्रों की सूची में नाम होने के बाद भी पैसे न दे पाने के कारण सचिव से मिलकर वास्तविक पात्रों को सूची से बाहर कर पैसे लेकर अपात्रों को दिए आवास, सर्वे के दौरान बयासी नामों की सूची जरूरी कागजातों को लेकर तैयार की गई थी।

जिसमें से अट्ठाइस वास्तविक पात्रों का नाम किया गायब सूची से गायब 28 नामों की जानकारी मांगने पर प्रधान गोलमाल जवाब देते हुए जानकारी ना होने की बात कह रहे हैं। कंप्यूटर में भी नाम शो नहीं हो रहा है सचिव का तबादला हो चुका है। वह भी जानकारी देने से  इनकार कर रहे हैं।

आपको बताते चलें कि पीलीभीत ट्रांस शारदा पार थाना हजारा क्षेत्र के ग्राम मुरैना गाँधीनगर में कई माह पूर्व ग्राम प्रधान व सचिव ने मिलकर ग्राम सभा में आवास के लिए पात्रों की सूची फोटो ,बैंक पासबुक की फोटो कॉपी, आधार कार्ड आदि जरूरी कागजातों को लेकर 82 नामों की सूची तैयार की गई थी कंप्यूटर में आवास के लिए नाम दर्ज कराने हेतु प्रति फार्म सौ-सौ रुपये भी जमा कराए थे।

प्रधान ने  सचिव से मिलकर सूची में  नाम दर्ज  किए गए लोगों से  पैसे की  मांग  की थी  परंतु माली हालात  होने के कारण  वास्तविक पात्रों ने पैसे न दे पाने की असमर्थता व्यक्त कर दी, वर्तमान में ग्राम पंचायत मुरैना गाँधीनगर में 54 लोगों का आवास आया हुआ है जब सर्वे के दौरान तैयार सूची के  28 वास्तविक पात्रों के नाम आवास न आने की बात पता चली और सूची में मात्र चौवन  नाम ही होने की जानकारी मिली।

तो उक्त पात्रों ने प्रधान से आवास न मिल पाने का कारण पूछा तो प्रधान ने सूची में नाम ना होने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया जब सूची से नाम गायब हुए लोगों ने सचिव से जानकारी प्राप्त करना चाहा तो पता चला सचिव का तबादला हो चुका है संचार माध्यम से सचिव से जानकारी प्राप्त करने की कोशिश की गई तो उन्होंने गोलमाल बात करते हुए जानकारी ना होने की बात कह दिया।

इस पर सूची से नाम गायब पात्रों ने कंप्यूटर पर जांच करवाना चाहा तो वहां भी नाम दर्ज नहीं मिला थक हार कर उक्त पात्रों ने जिलाधिकारी पीलीभीत को पत्र लिखकर ग्राम प्रधान पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा वर्तमान में जिन 54 लोगों का आवास आया हुआ है उसमें कई लोग अपात्र हैं।

जबकि प्रधान ने अपात्र लोगों से पैसे लेकर उनको आवास दे दिया और जिन लोगों के पास रहने के आवास के नाम पर महज झोपड़ी है उन लोगों को पैसे ना मिल पाने के कारण सूची से बाहर करते हुए उनका नाम गायब कर दिया अतः प्रधान को पैसे न दे पाने के कारण उक्तआवास पाने से वंचित वास्तविक लाभार्थियों फला फला आदि।

ने जिला अधिकारी पीलीभीत को पत्र लिखकर आवास पाने से वंचित वास्तविक लाभार्थियों को आवास दिलाए जाने व अपात्रों को आवास देने से रोकते हुए ग्राम प्रधान मुरैना गाँधीनगर के द्वारा किए गए भ्रष्टाचार की जांच करते हुए उस पर उचित व कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है।

राजकुमारी, किशोरी देवी ,सोनी वर्मा ,लक्ष्मी देवी ,गुलबदनी देवी ,रानी ,बसंती देवी ,पाना देवी, कुमारी देवी, सुनीता, मुन्नी देवी, मोना देवी, माधुरी ,पाना देवी, सीमा, उर्मिला, गुलावती ,प्रीतपाल, इसरावती देवी आदि आवास पाने से वंचित महिलाओं ने मांग रखी है।

रिपोर्ट गोविंद कुमार

You may also like