फर्जी क्राइम ब्रांच कर्मी बनकर ठगी करने वाला आरोपी पुलिस कि गिरफ्त में

by News Desk
25 views

इटावा :- वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर के निर्देशानुसार जनपद में अपराध एवं अपराधियों के विरूद्व तथा वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में सम्पूर्ण जनपद में संदिग्ध वाहन/व्यक्ति चेकिंग की जा रही थी।

इसी दौरान सोमवार देर शाम थाना इकदिल पुलिस टीम को मुखबिर द्वारा सूचना दी गयी कि इकदिल की ओर से दो मोटर साइकिल पर चार अज्ञात व्यक्ति इटावा शहर की ओर से आ रहे है तथा उनके पास अवैध शस्त्र भी है। मुखबिर की सूचना के आधार पर क्षेत्राधिकारी नगर के नेतृत्व में एसओजी इटावा व थाना इकदिल से टीमें बनाकर उपरोक्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु।

मानिकपुर मोड पर सघनता से चेकिंग प्रारम्भ की गयी। कुछ समय उपरान्त इकदिल की ओर से दो मोटर साइकिल आती हुई दिखाई दी जिन्हे पुलिस टीम द्वारा इशारा करके रोकने का प्रयास किया गया।

तो अभियुक्तों मोटर साइकिल पीछे की ओर मोडकर भागने लगे तथा पुलिस टीम द्वारा आवश्यक बल प्रयोग कर घेराबन्दी करके 03 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया तथा अभियुक्तों का एक साथी रात्रि के अधेरें का लाभ उठाकर भागने में सफल रहा।


गिरफ्तार अभियुक्तों से पुलिस टीम द्वारा की गयी पूछताछ में निम्न 07 घटनाओं का कारित करना स्वीकारा है तथा निम्न घटनाओं का अनावरण हुआ है-
अभियुक्तों द्वारा क्राइम ब्रांच कर्मी बनकर दिनांक 16.08.20 को महेरा चुंगी के पास एक महिला से सोने की चैन छीन ले गये थे।

जिसके सम्बन्ध में थाना फ्रेण्ड्स कालोनी पर मु0अ0सं0 421/20 धारा 420,406 भादवि पंजीकृत किया गया था। क्राइम ब्रांच कर्मी बनकर दिनांक 22.08.20 को इन्द्रेश सिंह को बाइक चालान काटने का हबाला देकर 6900रू0 लेकर भाग गये थे जिसके सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर मु0अ0सं0 460/20 धारा 406,420 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था। 

12/13.04.2020 की रात्रि को दिगम्बर जैन मन्दिर कटरा सेवाकली से सीसीटीवी का डीवीआर व अन्य सामान चोरी किया गया था जिसके सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर मु0अ0सं0 240/20 धारा 457,380 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था।

अभियुक्तों द्वारा  20.08.2020 को वादी बृजमोहन के मास्क न लगे होने के कारण डरा धमका कर 10000रू0 व एक मोबाइल फोन लेकर भाग गये थे जिसके सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर मु0अ0सं0 456/20 धारा 392 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था।

गिरफ्तार अभियुक्तों द्वारा दिनांक 20.08.2020 को इकदिल ओवर ब्रिज के ऊपर वादी इमरान से 89000रू0 व मोबाइल लेकर चले गये थे जिसके सम्बन्ध में थाना इकदिल पर मु0अ0सं0 304/20 धारा 420,406 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था।


गिरफ्तार अभियुक्तों द्वारा दिनांक 09.07.20 को महिला एएनएम कर्मी के साथ मास्क न लगाने के कारण डराकर पर्श बदल लिया था जिसमें 10000रू आदि सामान रखा हुआ था जिसके सम्बन्ध में थाना इकदिल पर मु0अ0सं0 309/20 धारा 420 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था।


अभियुक्तों द्वारा दिनांक 03.08.20 को थाना इकदिल क्षेत्रान्तर्गत स्थित विकास कालोनी स्थित बन्द पडे मकान से चोरी की गयी थी जिसके सम्बन्ध में थाना इकदिल पर मु0अ00सं0 284/20 धारा 380 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था।

अभियुक्तों के कब्जे से बरामदगी के सम्बन्ध में थाना इकदिल पर मु0अ0सं0 311/20 धारा 420,411 भादवि तथा मु0अ0सं0 312/20 धारा 3/25 आम्र्स एक्ट बनाम शेषपाल अभियोग पंजीकृत कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।


अभियुक्तों द्वारा पुलिस पूछताछ में बताया गया कि हम सभी लोग फर्जी पुलिस कर्मी व क्राइम ब्रांच कर्मी बनकर लोगों को डरा धमका कर ठगी, लूट व छिनैती की घटना कारित करते है तथा कोरोना काल में लोगों को मास्क न लगने पर लोगों को डराकर लोगों को ठगने का काम करते थे।


गिरफ्तार अभियुक्त का नाम-पता-शेषपाल यादव पुत्र भारत सिंह निवासी जैनई थाना जसवन्तनगर,इमरान उर्फ बबलू पुत्र गफ्फार उर्फ मटरू निवासी पक्कडपुरा थाना जसवन्तनगर
हरिशचन्द्र पुत्र भारत सिंह निवासी जैनई थाना जसवन्तनगर
अभियुक्तों के पास से,112000 रू नगद (विभिन्न घटनाओं से सम्बन्धित)
दो मोबाइल फोन (विभिन्न घटनाओं से सम्बन्धित)
एक डीवीआर
दो मोटर साइकिल घटना में प्रयुक्त
दो आईकार्ड, दो चैन पीली धातु
तीन अगूंठी पीली धातु

रिपोर्ट शिवम दुबे

Related Posts