बनने के कुछ वर्षों में ही सड़के हो जाती हैं जलाशय

by News Desk
14 views

कौशांबी :- कहने के लिए तो यह जिला डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का गृह जनपद है लेकिन उन्हीं के विभाग में भ्रष्टाचार इस कदर चरम पर व्याप्त है कि करोड़ों के बजट खर्च करने के बाद कार्य योजना का उपयोग आम जनता नहीं कर पाती है।

सड़क के बनने के कुछ दिन बाद ही खराब हो रही है इसके पीछे मुख्य कारण जो उभरकर आया है वह यह है कि लोक निर्माण विभाग सहित विभिन्न कार्य दाई संस्थाओं में जिले में भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी में तेजी से इजाफा हुआ है जिसके चलते ठेकेदार गुणवत्तापूर्ण कार्य नहीं कर पाते हैं और निर्माण के कुछ महीने बाद ही सड़के ध्वस्त हो जाती हैं।



एक-दो बारिश में ही सड़क तालाब और जलाशय की शक्ल में बन जाती है सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे हो जाते हैं जिसमें पानी भर जाता है जिसके चलते सड़कों पर चलने वाले साइकिल और बाइक सवार गड्ढों का अंदाजा नहीं कर पाते और गड्ढे में गिर कर चोटिल हो रहे हैं।



मंझनपुर मुख्यालय के पीछे नहर रोड की सड़क के गड्ढे पूरे विभाग के भ्रष्टाचार को खोलने के लिए पर्याप्त है इस सड़क पर पैदल निकलना पूरी तरह से मुश्किल हो गया है बाइक और साइकिल से चलना भी जोखिम भरा है।

और सड़क पर जब चार पहिया लग्जरी वाहन और ट्रक निकलते हैं तो उनके गति के चलते सड़क के गड्ढे के पानी के छींटे लोगों के घरों तक पहुँचते हैं जिसके चलते लोगों के घर गंदगी पहुंचती हैं।



लेकिन सड़क पर हो रहे गड्ढे को ठीक करने के मामले में जहाँ उदासीनता है वही घटिया निर्माण के जिम्मेदार पर शासन प्रशासन ने कार्यवाही नहीं की है वही गड्ढे नुमा हो चुकी इस सड़क की मरम्मत की ओर भी अधिकारी और माननीयों ने भी पहल नहीं की है जिससे जनता परेशान है।



रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

Related Posts