Home StateRajsthanBharatpur बयाना में कोरोना का आंकडा 140 पर पहुंचा

बयाना में कोरोना का आंकडा 140 पर पहुंचा

by Yogi
25 views

बयाना 29 जून। बयाना में कोरोना पाॅजिटिव मरीजों का आंकडा 140 पर पहुंचने के बाद मेडीकल विभाग एवं प्रशासन की ओर से सतर्कता बढा दी गई है। उपखंड अधिकारी सुनील आर्य के अनुसार सभी विभागों के अधिकारीयों कर्मचारीयों व अन्य लोगों के सहयोग से कोरोना जागरूकता अभियान भी चलाकर लोगों को कोरोना नियंत्रण उपायों से संबंधि जानकारी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि कोरोना को केवल सरकार और सरकार की मशीनरी के बूते ही नही बल्कि सभी मिलकर और जागरूक नागरिक की भांति काम कर कोरोना को हरा सकते है। सोमवार को बयाना की जाटव बस्ती में एक गर्भवती महिला कोरोना पाॅजिटिव पाई गई। यह ऐसा पहला मामला यहां बताया है। चिकित्सा प्रभारी अधिकारी डाॅ.भरतमीणा ने बताया कि सरकार की गाइडलाइन के तहत 7 माह से अधिक की गर्भवती महिलाओं की जांच के दौरान उनकी कोरोना जांच भी कराई जाती है। बयाना में किसी गर्भवती महिला को पहली बार कोरोना पाॅजिटिव रिपोर्ट आई है। इससे पहले रविवार को भी कस्बे में दो जनें व गांव तालिमपुर व बरखेडा में एक एक जनें तथा एक जना यहां के उपकारागृह में बंद कैदी की कोरोना पाॅजिटिव रिपोर्ट आई थी। ब्लाॅक हैल्थ सुपरवाइजर मानसिंह मीणा से प्राप्त जानकारी के अनुसार इन सब को मिलाकर बयाना में कोरोना पाॅजिटिव मरीजों का आंकडा 140 पर पहुंच गया है। जिनमें से 118 जनें रिकवर होकर स्वस्थ हो गए है। अन्य लोगांे को क्वारेंटाइन सेंटर भरतपुर में विशेष देखरेख में रखा गया है। बयाना में कोरोना संक्रमण के आरंभिक दौर में करीब ढाई माह पूर्व कस्बे की एक ही बस्ती में 99 व कुल 107 कोरोना पाॅजिटिव के मामले पाए गए थे। जिससे बयाना रामगंज की भांति कोरोना हाॅटस्पाॅट के रूप में सुर्खियों में आ गया था। तब मेडीकल विभाग पुलिस व प्रशासन एवं तमाम कोरोना वाॅरियर्स के सामूहिक प्रयासों से जल्द ही बयाना में कोरोना को नियंत्रित कर सभी पाॅजिटिव मामलों को रिकवर कर स्वस्थ कर दिया गया था। जिसकी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघुशर्मा ने भी सराहना करते हुए इसे बयाना माॅडल की उपमा दी थी। कुछ ही दिनों पूर्व फिर से यहां की केनरा बैंक में कोरोना का बम फूटने के बाद फिर यहां कोरोना पाॅजिटिव मरीज मिलने का ऐसा सिलसिला शुरू हुआ है जो थमने का नाम ही नही ले रहा है।

राजीव झालानी की रिपोर्ट

You may also like