राजगढ़ (मध्य प्रदेश):- राजगढ़ जनपद थाना ब्यावरा शहर
आपको बता दें कि दिनांक 26/12/2019 को फरियादी ने थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराई की अज्ञात व्यक्ति उसकी नाबालिक लड़की को हाथीखाना ब्यावरा से बहला-फुसलाकर अपहरण कर ले गया है।
फरियादी की रिपोर्ट पर थाना ब्यावरा शहर में अपराध क्रमांक 725/19 धारा 363 भादवी का मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
नाबालिग के अपहरण के मामले को गंभीरता से संज्ञान में लेकर जिला पुलिस अधीक्षक, द्वारा नाबालिक लड़की की दस्तयाबी एवं अज्ञात आरोपी की गिरफ्तारी के लिए 10 हजार रुपए, के नगद इनाम की उद्घोषणा कर एसडीओपी ब्यावरा, एवं थाना प्रभारी ब्यावरा शहर, को नाबालिक लड़की की दस्तयाबी हेतु अथक प्रयास करने हेतु निर्देशित किया गया।
आपको बता दें कि मामला दर्ज होने के बाद से ही पुलिस टीम इस मामले में लड़की को तलाश करने के लिए काफी मशक्कत कर रही थी। तभी मामले की जांच में सामने आया कि नाबालिक लड़की को राहुल भील, निवासी गोरियापूरा, का लड़का उसका अपहरण कर कहीं ले गया है, एसडीओपी किरण अहिरवार, व थाना प्रभारी राजपाल सिंह राठौर, द्वारा अपह्त नाबालिक लड़की की तलाश प्रारंभ की प्रयासों के चलते हर छोटी से छोटी सूचना पर मूवमेंट करते हुए, लगातार अपहर्ता व संदेही के गांव व रिश्तेदारों के यहां पर दबिश डालनी शुरू की गई। उसी दौरान दिनांक 01/03/2021 को पुलिस को सूचना प्राप्त हुई की आरोपी राहुल भील, नाबालिक अपहर्ता को परिजनों से दूर कहीं दूसरी जगह ले जाने के लिए ब्यावरा बस स्टैंड, पर बस के इंतजार में खड़ा है। पुलिस टीम ने तत्काल ब्यावरा बस स्टैंड पर दबिश देकर आरोपी राहुल भील, उर्फ रुमाल, निवासी गोरियापुरा, थाना लटेरी जिला विदिशा, के कब्जे से नाबालिक लड़की को दस्तयाब किया व नाबालिग लड़की के बयानों के आधार पर प्रकरण में धारा 366, 376,(2)(एन) भादवी 3/4,5 एल/6,5एम/6 पास्को एक्ट का इजाफा किया गया, आरोपी को माननीय न्यायालय पेश कर जेल भेजा गया।

रिपोर्ट कमल चौहान