बिना काम के मिलता वेतन -सिचाई एवम जल संसाधन विभाग में, सी डी ओ को मिले 15 कर्मचारी गैर हाजिर

by News Desk
15 views

हमीरपुर ।जिले में एक ऐसा विभाग है जिसके पास कोई काम नही है मगर कर्मचारियों पर वेतन सरकार 6 लाख रुपये से अधिक प्रति माह खर्च कर रही है ।इसका खुलासा तब हुआ जब मुख्य विकास अधिकारी ने विभाग में छापा मारा तो पता चला कि भूमि सरंक्षण अधिकारी समेत 15 कर्म चारी गायब है ।कार्यालय गंदगी का बोलबाला है ।सारा सामान अस्त व्यस्त पड़ा है ।हालाँकि सी डी ओ ने गैर हाजिर लोगो का अग्रिम आदेशो तक वेतन रोक दिया है । विभाग के जे ई विनोद कुमार बताते है कि भूमि सरंक्षण अधिकारी जगदीश प्रसाद के पास 11 जिलो का चार्ज है, इसलिए वे कभी कभार ही कार्यालय आते है ।इस समय कोई विभागीय कार्य नही है। पिछली दस परियोजनाएं समय से पहले ही बन्द कर दी गयी।जिसकी क्लोज़र रिपोर्ट भेजी जा चुकी है ।सी डी ओ के अभिलेख मांगे जाने पर वे साक्ष्य नही दिखा सके।जे ई का कहना था कि अभिलेख लेखाकार के पास है,जो कार्यालय नही आये ।अभिलेखों का रख रखाव सही नही पाया गया।निष्प्रयोज्य सामान अस्त व्यस्त पाया गया ।मजेदार बात तो यह है कि विभाग में कोई काम न होनेके बाद मनरेगा कन्वर्जेंस में भी कोई प्रस्ताव बनाकर भेजने की जरूरत नही समझी गयी ।यहां नौ सहायक भूमि सरंक्षण निरीक्षक दो अवर अभियंता समेत चार सींचपाल,वरिष्ठ व कनिष्ठ सहायक चार,तीन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी तैनात है ।जिनका हर माह लाखो में वेतन निकलता है ।काम न होने से अधिकांश कर्मचारी कार्यालय ही नही आते है ।इसीलिए औचक निरीक्षण में 15 कर्मचारी गायब मिले, जिनका वेतन रोक दिया गया है ।

Related Posts