राजगढ़ (मध्य प्रदेश):- राजगढ़ जिले के कुरावर में ब्रिज रोड पर मृत पड़े युवकों को बचाने में बोलेरो पलट गई थी। गाड़ी में भोपाल उपचार कराने अपनी माताजी को लेकर ऋषि विजयवर्गीय, जा रहे थे। और ड्राइवर महेश शर्मा, पीछे बैठे थे बोलेरो को लिपिक ऋषि विजयवर्गीय चला रहे थे, आपको बता दें कि वाहन की पलटी के बाद ऋषि द्वारा थाने में जाकर सूचना दी गयी, जिसमे मोके पर मुहायना कर पुलिसकर्मियों ने भी दबी जुबान में कहा कि कोई और वाहन टक्कर मारकर रफू चक्कर हो गया है। लेकिन मृत लोगो को क्लेम दिलाने के चक्कर मे बेवजह बोलेरो गाड़ी के नाम प्रकरण दर्ज कर दिया गया।
जबकि हक़ीक़त में कोई और वाहन टक्कर मारकर गया था गाड़ी पलटने से लिपिक ऋषि विजयवर्गीय की माताजी को भी पेर में हल्की चोट आई।
बोलेरो पलट जाने के बाद भी CMHO कार्यलय के ऋषि विजयवर्गीय, द्वारा उदारता दिखाते हुए खुद थाने में पहुच कर सूचना दी गयी। और खुद मोके से न भागते हुए भी थाने में जाकर सूचना दी लेकिन उल्टा लिपिक विजयवर्गीय, को ही इस प्रकरण में दोषी मान लिया गया जिनका मेडिकल कराया गया।
इनका कहना है कि
कुरावर थाना प्रभारी रामनरेश राठौर, ने बताया कि बोलेरो वाहन चालक ऋषि विजयवर्गीय को मामूली सी चोट आई है और उनके द्वारा कोई शराब नही पी हुई थी वे पूरे होशं में थे कुछ आसामाजिक लोगो ने भ्रामक व तथ्यहीन खबर लगाकर शराब के नशे में होना बताया जो पूरी तरह झूठ था। क्योंकि शराब पी होती तो 24 घण्टे तक उसका मेडिकल में आ जाता है।

रिपोर्ट कमल चौहान