Home StateUttar PradeshJalaun ब्लाक प्रमुख पर हुए हमले व पुलिस के दोहरे चरित्र को लेकर कुशवाहा समाज ने कलेक्ट्रेट में किया गुस्से का इजहार

ब्लाक प्रमुख पर हुए हमले व पुलिस के दोहरे चरित्र को लेकर कुशवाहा समाज ने कलेक्ट्रेट में किया गुस्से का इजहार

by naveen
85 views

अखिल भारतीय कुशवाहा महा सभा के वैनर तले एडीएम को सौंपा ज्ञापन
फर्जी मुकदमा वाफिस लेने व दोषियो को जेल भेजने की उठाई मांग
उरई/जालौन—वीते दिनों पूर्ब में ब्लॉक प्रमुख कदौरा विजय सिंह कुशवाहा के ऊपर हुए जानलेवा हमले को लेकर कुशवाहा समाज ने एक जुटता दिखाई ।और अखिल भारतीय कुशवाहा महा सभा के बैनर तले जिलाध्यक्ष महेश कुशवाहा बरहा ने सैकड़ो सुजाति बन्धुओ के साथ मिलकर एडीएम प्रमिल कुमार सिंह को ज्ञापन सौंपा।ज्ञापन के माध्यम से जिलाध्यक्ष महेश कुशवाहा ने एडीएम से मांग की है भाजपा के एक जनप्रतिनिधि के इसारे पर ब्लाक प्रमुख पर हमला किया गया और फर्जी मुकदमा लिखवाया गया जिसे तत्काल वापिस लिया जाए।अन्यथा अखिल भारतीय महासभा पूरे प्रदेश में प्रदर्शन करने को मजबूर हो जाएगा।ब्लाक प्रमुख को उक्त दबंगो से खतरा है उनके घर बालो की सुरक्षा भी की जाये।
अखिल भरतीय कुशवाहा महासभा अध्यक्ष महेश प्रधान ने स्पष्ट रूप से पूरी घटना का जिक्र किया। ग्राम बवीना स्तिति तालाब में मिट्टी खुदाई को लेकर ठेकेदार से कुछ विबाद हुआ था।जिसकी सूचना ठेकेदार द्वारा ब्लॉक प्रमुख कदौरा विजय सिंह कुशवाहा को दी।सूचना मिलते ही जनप्रति निधि के नाते वह घटना स्थल पर पँहुचे।प्रमुख को देखते ही दबंग अजय सिंह,अमित सिंह, संजय सिंह, आदि ने उन पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया।जिससे विजय सिंह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा।मौके पर आई पुलिस उपचार कराया और मामूली धाराओं में मामला पंजिकृत कर लिया ।इसके बाद पुलिस ने दोहरे चरित्र और रवैये को अपनाते हुए क्रास केश के चक्कर मे घायल प्रमुख के बिरुद्व भी गम्भीर धाराओ में मामला दर्ज कर लिया ।पुलिस के उक्त दोहरे चरित्र कुशवाहा महासभा गोर निंदा करती है।जनप्रति निधि पूर्व जिलाध्यक्ष बसपा मूलशरण कुशवाहा नेएडीएम प्रमिल कुमार सिंह को बताया एक जनप्रतिनिधि वह भी ब्लॉक प्रमुख जिस पर सत्ता पक्ष के इसारे पर कदौरा पुलिस फर्जी मुकदमे लिखने का काम कर रही है।जिसे बर्दास्त नही किया जाएगा। विजय कुशवाहा ब्लॉक प्रमुख दंगे की नीयत से तालाब पर नही गया था एक जनप्रतिनिधि के नाते समझाने के लिए मौके पर गया था।जो एक जनप्रतिनिधि का फर्ज बनता है।फर्जी मुकदमा वापिस लिया जाए और 307,504,506,दोषियो को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए।तथा प्रमुख एवं उनके घर बालो की जानमाल की सुरक्षा बढ़ाई जाए ।इस दौरान आरपी कुशवाहा, नाथूराम बौद्ध, बीरेन्द्र सिंह खर्रा,राममिलन कोंच,श्याम लुहारी मनोज कुशवाहा बसपा नेता,शिवकुमार ठेकेदार,वीर सिंह कुशवाहा कोंच,रघुवीर राम मिलन,लालू कुशवाहा ताहरपुर, बबलू कुशवाहा ताहरपुर,नवीन कुशवाहा कोंच, जीतु कुशवाहा, अनिकेश कुशवाहा अजनारी युवा सपा नेता,अरविंद कुशवाहा, रणधीर सिंह केशवनन्द रामानन्द कुशवाहा,जितेन्द्र सिंह आदि सैकड़ो लोग उपस्तिथि रहे।

  • रिपोर्ट-नवीन कुशवाहा

You may also like