भरवारी में मानक के अनुसार नही मिल रही बिजली

by nikhil

कौशांबी :- भरवारी, स्थानीय कस्बा भरवारी में बिजली की किल्लत से आम नागरिक परेशान है। बिजली आने जाने का कोई समय नही है। दिन हो या रात हर समय बिजली की समस्या बनी हुई है।

भरवारी में बिजली आपूर्ति का रोस्टर साढ़े इक्कीस घंटे का है जब कि आपूर्ति महज 13 से 14 घंटे ही हो रहा है। गत वर्ष कस्बे के अंदर पुराने हो चुके बिजली की जर्जर केबिल बदली गयी तो लोगों में आशा बंधी कि अब नई केबिल होने के कारण बिजली की आपूर्ति बाधित नही होगी।

लेकिन नई केबिल भी बार बार टूट कर गिरने से बिजली की आपूर्ति सही ढंग से नही हो पा रही है जिससे कस्बावासी परेशान हैं। कस्बावासियों का कहना है कि ठेकेदार द्वारा जो केबिल लगाई गई वह घटिया किस्म का होने के कारण ही बारबार टूट रहा है। गौरतलब हो कि स्थानीय रेलवे स्टेशन भरवारी, मंडी व स्थानीय स्तर पर अन्य वस्तुओं की थोक दुकाने होने के कारण यहां देर रात तक लोगों का आवागमन बना रहता है ऐसी स्थिति में बिजली का रहना आवश्यक होता है।



पिन्टू पंजाबी का कहना है कि कस्बा में लगाया गया बिजली आपूर्ति का गुर्रा केबिल घटिया किस्म का होने के कारण ही बार बार टूट कर गिर रहा है। जिससे आपूर्ति बाधित होने के साथ ही साथ लोगों के घर के इलेक्ट्रिक सामान भी खराब हो रहे हैं।



रवींद्र नारायण मिश्रा का कहना है कि कस्बे में बिजली की आपूर्ति सही ढंग से होने के कारण लोगों की मुश्किलें बढ़ गयी हैं। रात्रि के समय इस भीषण गर्मी में लोग बिजली न रहने से पंखा न चलने के कारण नींद भी नही ले पा रहे हैं।


प्रमोद कुमार पांडेय के अनुसार बिद्युत लापरवाही के कारण ही बिजली आपूर्ति बाधित हो रही है। मानक के अनुसार बिजली की आपूर्ति होनी चाहिए

मुकेश कुमार केसरवानी के अनुसार ठेकेदार द्वारा घटिया केबिल लगाने के कारण ही बार बार केबिल टूट रही है जिसे बदलना आवश्यक है।


जे ई आकाश सिंह के अनुसार लोड अधिक होने के कारण केबिल टूट रही है। नई केबिल की मांग की गयी।


रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

Related Posts