अजमेर : भाई दूज पर भाइयों से नहीं मिल सकी बहनें

by saurabh

राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना नियमों के कारण अजमेर के केंद्रीय कारागृह में भाई दूज पर बहनें अपने भाइयों से नहीं मिल पाई। भाई-बहन के प्यार एवं अटूट रिश्ते का पर्व भाई दूज पर आज उन बहनों को निराशा हाथ लगी जो अपने कैदी भाईयों की कलाइयों पर रक्षा सूत्र और माथे पर तिलक लगाने पहुंची। कोरोना नियमों के चलते उन्हें जेल में उनके भाईयों से मिलने की अनुमति नहीं मिलने से वे जेल के बाहर मायूस बैठी रही।

जेल प्रबंधन ने सरकारी आदेशों की पालना के तहत किसी भी महिला को अपने भाई से मुलाकात करने के लिए जेल परिसर में प्रवेश नहीं दिया जिससे उन्हें काफी निराशा हुई।

ALSO READ : औरैया: खंडहर मकान में लटका मिला शव, जांच जारी

माना जाता है कि यम देवता आज के दिन ही बहन यमुना के घर गए और लंबी उम्र की कामना की। इसी भाईदूज के परंपरागत त्योहार की परिपाटी को पूरा करने ये बहनें भी अपने भाई से मुलाकात करने केंद्रीय कारागृह पहुंची लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी।

वार्ता

राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना नियमों के कारण अजमेर के केंद्रीय कारागृह में भाई दूज पर बहनें अपने भाइयों से नहीं मिल पाई। भाई-बहन के प्यार एवं अटूट रिश्ते का पर्व भाई दूज पर आज उन बहनों को निराशा हाथ लगी जो अपने कैदी भाईयों की कलाइयों पर रक्षा सूत्र और माथे पर तिलक लगाने पहुंची। कोरोना नियमों के चलते उन्हें जेल में उनके भाईयों से मिलने की अनुमति नहीं मिलने से वे जेल के बाहर मायूस बैठी रही।

जेल प्रबंधन ने सरकारी आदेशों की पालना के तहत किसी भी महिला को अपने भाई से मुलाकात करने के लिए जेल परिसर में प्रवेश नहीं दिया जिससे उन्हें काफी निराशा हुई।

ALSO READ : औरैया: खंडहर मकान में लटका मिला शव, जांच जारी

माना जाता है कि यम देवता आज के दिन ही बहन यमुना के घर गए और लंबी उम्र की कामना की। इसी भाईदूज के परंपरागत त्योहार की परिपाटी को पूरा करने ये बहनें भी अपने भाई से मुलाकात करने केंद्रीय कारागृह पहुंची लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी।

Related Posts