कौशाम्बी :- पिपरी थाना क्षेत्र के एक निजी अस्पताल के चिकित्सकों की लापरवाही से इलाज के दौरान मासूम बच्ची की मौत के मामले में मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद भी आरोपी चिकित्सक की गिरफ्तारी न होने पर किसान नेताओं ने धरना प्रदर्शन कर चिकित्सक की गिरफ्तारी की मांग की है।



जानकारी के मुताबिक भारतीय किसान यूनियन ने यूनाइटेड मेडिसिटी अस्पताल के बाहर डॉक्टरों की लापरवाही से तीन साल की खुशी की मौत के मामले में धरना प्रदर्शन किया भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ो कार्यकर्ताओ ने अस्पताल के गेट के बाहर अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया भारतीय किसान यूनियन के प्रदर्शन को देखते हुए।

मौके पर भारी फोर्स मौजूद रही भारतीय किसान यूनियन के कार्यकताओं ने जिला प्रशासन से अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही की मांग किया है। यूनियन के नेताओं ने आरोपी चिकित्सक की गिरफ्तारी की मांग प्रशासन से की है।



गौरतलब है कि बीते 4 दिन पहले पिपरी थाना के करेंदा गांव की रहने वाली खुशी की यूनाइटेड मेडिसिटी में डॉक्टरों की लापरवाही से इलाज के दौरान मासूम खुशी की मौत हो गयी थी मासूम खुशी के परिवार वालो ने डॉक्टर द्वारा सही इलाज न करने और पैसा मांगने का आरोप लगाया था चार दिन बीत जाने के बाद भी डॉक्टर और अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ उचित कार्यवाही न होने से आज भारतीय किसान यूनियन के लोगो ने अस्पताल के बाहर प्रदर्शन किया।

भारतीय किसान यूनियन के नेताओं का कहना है कि डॉक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है हम लोग चाहते है कि अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया जाय अस्पताल का लाइंसेंस की जांच की भी मांग भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने प्रशासन से किया है ।


रिपोर्ट श्रीकांत यादव