जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा अब कोरोना जांच के लिए होने वाले आरटी पीसीआर टेस्ट की कीमतें और कम की जाएगी। गहलोत ने शनिवार को जयपुर में 70 बेड वाले कोविड आईसीयू, हनुमानगढ़, प्रतापगढ़, जैसलमेर, टोंक, बूंदी और राजसमन्द (नाथद्वारा) में कोविड जांच लैब, एमडीएम अस्पताल जोधपुर में कैंसर वार्ड समेत अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि राज्य में सबसे पहले चार हजार रूपए का टेस्ट होता था। अब इस किट की कीमत और कम की जाएगी। जिसे जल्द ही तमाम निजी लैब में 800 रुपए में किया जाना तय करेंगे।

सीएम गहलोत ने कहा मार्च से हम कोरोना के इलाज में लगे हैं। देश में सिर्फ राजस्थान और तमिलनाडु दो राज्य हैं जहां 100 प्रतिशत टेस्ट आरटी पीसीआर से हो रहे हैं। जो पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा विश्वसनीय टेस्ट है। जिसमें पॉजिटिव आने वाले 100 प्रतिशत पॉजिटिव हैं। दिल्ली समेत देशभर में जो एंटीजन टेस्ट हो रहे हैं। उसमें 30 प्रतिशत से ज्यादा आंकड़े गलत आते हैं।

ALSO READ : दिल्ली में कोरोना का कहर, केंद्र ने थामी कमान

उन्होंने कहा कि हमारे मेडिकल टीम ने चाइना से आए सभी टेस्ट किट की टेस्टिंग की। जिससे पता चला कि वो फर्जी हैं। जिसके बाद केंद्र को लिखा गया। इसलिए हमने राजस्थान में आरटी पीसीआर टेस्ट को प्राथमिक्ता दी है।

वार्ता