लवजेहाद व धर्मांतरण के विरोध में अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद व बजरंग दल ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा

by News Desk
55 views

कानपुर। लवजेहाद व धर्मान्तरण की घटनाओं में संलिप्त व्यक्तियों संस्थाओं के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही के सम्बंध में आज अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद व बजरंग दल के पदाधिकारियों ने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन पुलिस अधीक्षक कानपुर दक्षिण को सौंपा।

इस मौके पर ज्ञापन देने गए पदाधिकारियों ने कहा कि भारत के बहुसंख्यक हिन्दू समाज के प्रति घृणा वैमनस्यता का भाव रखने वाले कुछ मुट्ठी भर देश विरोधी कृत्यों में लिप्त संगठन संस्थान व व्यक्ति जो भारत को निरन्तर अस्थिर करने के प्रयासों में लगे हुए हैं। जो कानपुर समेत सम्पूर्ण देश भर में भारत की सांस्कृतिक विरासत को छिन्न भिन्न कर समाप्त कर देना चाहते हैं। जो देश और समाज को तोड़ने के लिए विभिन्न प्रकार की देश विरोधी जेहादी आतंकवादी गतिविधियों में पूर्णतया संलिप्त हैं तथा जो किसी भी प्रकार से देश की सांस्कृतिक धरोहर को समाप्त कर देने में लगे हुए हैं। जिसके लिए ये सभी व्यक्ति व उनके संगठन नित नई योजनाओं पर कार्य कर रहे हैं वर्तमान में देश के अंदर वातावरण दूषित करने के लिए ये सभी जेहाद के ही एक प्रारूप जो लवजेहाद के नाम से आजकल अत्यधिक चर्चा में है का सहारा भी ले रहे हैं तथा साथ ही धर्मान्तरण का असंवैधानिक कुकृत्य भी इनके द्वारा किया ही जा रहा है।

कानपुर में पिछले कई दिनों से लगातार चर्चा में रही लवजेहाद व धर्मान्तरण की घटनाओं में इन्ही देश विरोधी संगठनों व व्यक्तियों की भूमिका हम सभी महसूस भी कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद, राष्ट्रीय बजरंगदल यह महसूस करती है कि इन घटनाओं के पीछे एक बहुत बड़े देश विरोधी हिन्दू विरोधी गिरोह का हाँथ है। जिसको देश व विदेश में बैठे भारत विरोधी देश विरोधी व्यक्तियों संगठनों द्वारा संसाधन उपलब्ध कराया जा रहा है। पूर्व में माननीय न्यायालय द्वारा भी इस विषय को गंभीर बताया जा चुका है। यह मात्र प्रेम प्रसंग का विषय नहीं है। यह इन सभी राष्ट्र विरोधी तत्वों द्वारा एक सोची समझी रणनीति के तहत बृहद स्तर पर किया जाने वाला देश विरोधी षड्यंत्र है। जो भारत को अस्थिर कर गृहयुद्ध की विभीषिका में ढ़केलने का षड्यंत्र रचने का कार्य है।

इस लवजेहाद व धर्मान्तरण के कार्य मे कोई एक दो पाँच व्यक्ति नहीं एक बहुत बड़ा व ताकतवर नेटवर्क कार्य कर रहा है। जिसके तार सुदूर सत्रु देशों से भी जुड़े हो सकते हैं। कानपुर समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों में इनका तंत्र विकसित हो चुका है। लोकलाज के भय से तमाम हिन्दू परिवार इन घटनाओं को दबा जाते हैं व आर्थिक अभावों के कारण बहुत से हिन्दू समाज की बेटियां इन सभी के बहकावे में आकर घोर नर्क की यातनाएं झेलने को विवश हो जाती हैं। चूंकि प्रदेश के हिन्दू समाज ने अपनी सुरक्षा समृद्धि व सम्मान को बढ़ाने वाली एक राष्ट्र भक्त सरकार को चुनकर प्रदेश के शाशन की बागडोर सौपी हैं इसलिए वही हिन्दू समाज आपकी ओर कातर दृष्टि से अपने सम्मान को बचाने हेतु देख रहा है व आशान्वित भी है कि हमको इस अपमान से मुक्ति प्रदान करने का आप निश्चित ही कार्य करेंगे।

अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद राष्ट्रीय बजरंगदल कानपुर प्रान्त आपसे निम्नलिखित माँगे करती है –

1- कानपुर समेत सम्पूर्ण प्रदेश में धर्मांतरण को तत्काल प्रतिबंधित करने हेतु कानून बनाना चाहिए।

2- लवजेहाद को प्रेरित करने वाले संगठनों को प्रतिबंधित किया जाना चाहिये।

3- जिस किसी मौलवी ने धर्मान्तरण करके हिन्दू लड़की का निकाह मुस्लिम लड़के से पढ़वाया हो उसे दंडित किया जाना चाहिए।

4-हिन्दू मुस्लिमों के बीच होने वाले विवाह सम्बन्धों को अवैध घोषित कर दिया जाना चाहिए।

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts