लाठीचार्ज से सरकार का किसान विरोधी चेहरा हुआ बेनकाब: दीपा शर्मा

by anil
16 views

कुरुक्षेत्र। कुरुक्षेत्र में किसानों द्वारा आयोजित रैली को असफल बनाने के लिए हरियाणा पुलिस द्वारा किसानों पर बर्बरता पूर्वक भांजी लाठियों से हरियाणा में सत्ता में बैठी बीजेपी की मनोहर सरकार व केंद्र में भाजपा की मोदी सरकार का किसान व मजदूर विरोधी चेहरा बेनकाब हो कर सामने आ गया है। सोनिया गांधी ब्रिगेड कांग्रेस की हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष दीपा शर्मा ने प्रेसवार्ता में कहा कि हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा किसानों के हित में पास किए गए तीन काले अध्यादेश के खिलाफ पीपली में किसानों को रैली में जाने से रोक और उन्हें हिरासत में लेकर जबरन थानों में खुश रहने पर उनके मौलिक अधिकारों का हनन किया है। सरकार द्वारा किसानों का इस कदर रास्ता रोकना उसकी तानाशाही का परिचायक है। दीपा शर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा पास किए गए या किसान विरोधी ऑर्डिनेंस के तहत सरकार एमएसपी खत्म कर देगी जिससे ना केवल सरकार किसान का अनाज खरीदने से बच जाएगी बल्कि वह अनाज के भंडारण वह इसकी सुरक्षा से भी अपने जिम्मेवारी से बच जाएगी। इस प्रकार यह तीन काले कानून ना केवल किसान विरोधी है बल्कि मजदूर व्यापारी वह मुनीम वर्क के भी खिलाफ है और उन्हें बेरोजगार कर अपनी रसोई का खर्च चलाने के लिए कोई अन्य काम करने के लिए मजबूर कर देगी। उन्होंने कहा कि बिजली संशोधित बिल 2020 भी किसान विरोधी है इस बिल के तहत अगर किसानों को दी जाने वाली बिजली की अगर सब्सिडी खत्म कर दी गई तो किसान के लिए अपने ट्यूबवेल चलाना मुश्किल हो जाएगा। जिसका विपरीत असर किसान के उत्पादन पर पड़ेगा और किसान की माली हालत कमजोर हो जाएगी।

Related Posts