भारतीय रेलवे द्वारा कोविड-19 के कारण राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान यह सुनिश्चित करने की दिशा में हर प्रयास किया जा रहा है कि आम आदमी के लिए चीनी, नमक और खाद्य तेल की कोई कमी नहीं रहे। इस अवधि में इन आवश्यक वस्तुओं के लदान, परिवहन और उतारने का काम पूरी रफ्तार से हो रहा है।

23 मार्च से 4 अप्रैल, 2020 तक पिछले 13 दिनों के दौरान रेलवे ने चीनी से भरे 1,342 वैगन, नमक के 958 वैगन और 378 वैगन/ टैंक खाद्य तेल (एक वैगन में 58 से 60 टन की खेप आती है) का लदान और ढुलाई की।

माल ढुलाई पर उच्च स्तर के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है। रेलवे को पूर्व में विभिन्न टर्मिनल बिंदुओं पर लदान और उतार के दौरान जिन समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था, उनका प्रभावी तरीके से समाधान किया जा रहा है। भारतीय रेलवे, गृह मंत्रालय के साथ ही राज्य सरकारों के संपर्क में है और अचानक सामने आने वाली परिचालन संबंधी समस्याओं को दूर किया जा रहा है।