सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने किया अस्थाई जेल का आकस्मिक निरीक्षण

by News Desk
19 views

गोरखपुर :- उत्तरप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के आदेशानुसार व माननीय जनपद न्यायाधीश के निर्देश से सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, कन्नौज सचिन कुमार दीक्षित द्वारा अस्थाई जेल का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। वर्तमान में किसी भी बंदी को जिला कारागार में दाख़िल करने से पूर्व कोरोना संक्रमण को देखते हुए पहले एक निश्चित समय तक अस्थाई जेल में प्रथक रखा जाता है ।उस अवधि के बीतने के पश्चात ही बंदियों को जिला कारागार भेजा जाता है। या अस्थाई जेल सेंट जेवियर्स स्कूल में निर्मित की गई है। वर्तमान में इस अस्थाई जेल में कुल 87 बंदी हैं, जिसमें 2 महिलायें व 85 पुरुष हैं। यहाँ सुरक्षा को देखते हुए स्टॉफ की कमीं पाई गई, अभी अस्थाई जेल में कुल जेल की ओर से 3 कर्मचारी व एक डिप्टी जेलर को नियुक्त किया गया है तथा कन्नौज की पुलिस की ओर से दो पुरुष व एक महिला कांस्टेबल को तैनात किया गया है जिनसे 12-12 घंटे की शिफ्ट में ड्यूटी कराई जा रही है। जबकि बंदियों की संख्या व अस्थाई जेल की लोकेशन को देखते हुए वहाँ और सुरक्षाकर्मियों की आवश्यकता डिप्टी जेलर द्वारा बताई गई ।अस्थाई जेल में एक  भोजनालय भी बना हुआ है है। भोजन की गुणवत्ता को सचिव श्री दीक्षित द्वारा परखा गया व बंदियों से भी पूछा तो सबने भोजन की क़्वालिटी को बढ़िया बताया व पूछने पर बताया कि डॉक्टर साहब सुबह शाम विजिट करते हैं। साफ सफ़ाई व नियमित सैनिटाइजेशन हेतु पूछने पर अवगत हुआ कि नगर पालिका की ओर से सैनिटाइजेशन में लापरवाही बरती जा रही है जबकि नियमित तौर पर सैनिटाइजेशन किया जाना चाहिये। इसके अतिरिक्त सचिव महोदय ने सभी बंदियों को कोविड 19 वायरस के खतरे को समझाया साथ ही मास्क लगाये रहने के लिये भी कहा। किसी भी बंदी को कोई भी शारीरिक तकलीफ़ होने पर तुरंत डिप्टी जेलर से संपर्क कर उसे अस्पताल में दाख़िल करने हेतु भी आदेशित किया गया।

Related Posts