सत्संग की आड़ में किया जा रहा धर्मांतरण

by News Desk
236 views

कौशाम्बी :- भारत सहित विश्व मे कोरोना ने कहर मचा रखा है,सरकार ने महामारी घोषित कर रखी उसके लिए सामाजिक दूरी और मास्क अति आवश्यक है। जो भी सरकार द्वारा दिये गए नियम और निर्देशों का पालन नही कर रहा उसके खिलाफ प्रशासन द्वारा तमाम तरह की कार्रवाई की जा रही है।

उसी कड़ी में आज नगर पंचायत अझुवा के वार्ड नं 1 भौंतर सत्यम मील के पास गंगा रामरैदास की पत्नी गंगा देवी यीशु की तस्वीर लगाकर प्रार्थना सभा (सत्संग)का आयोजन अपने घर पर ही करवा रही थी लोगों के अनुसार।

गंगा देवी अक्सर अपने घर पर इस तरह का आयोजन करती है जिसमे आसपास के गांव और कस्बे के काफी संख्या में महिलाएं और पुरुष एकत्र होकर यीशु भजन और कीर्तन किया जा जाता है।

वहीं पड़ोसियों के कहना है ये प्रार्थना सभा नही बल्कि कुछ लोगों द्वारा पैसे की लालच में गरीब और असहायों का धर्मांतरण करवाया जा रहा है,इन सभी के घरों से हिन्दू देवी देवताओं की मूर्तियां हटाकर यीशु की वंदना की जा रही है।

वहीँ आयोजक का कहना है हम परमेश्वर से प्रार्थना करते हैं ,प्रार्थना ही एक जरिया है जिससे परमेश्वर से बात की जा सकती है,उसे जान सकते हैं,उसे खोजते हैं प्रार्थना के द्वारा सारे संघर्ष समाप्त होंगे और दुख दरिद्रता से छुटकारा मिलेगा।लोग स्वतः आ जाते हैं ।जब महामारी केविड -19 के विषय मे बताया गया ,तो ऐसी किसी जानकारी से इनकार किया।

चौकी इंचार्ज विजय कुमार कुशवाहा ने बताया मुखबिर की सूचना पर छापा मारा गया गंगा देवी रैदास पत्नी गंगाराम रैदास,सुनीता पत्नी बाजीलाल आरती प्रजापति पत्नी अजय कुमार ,रामराज, रामलाल सहित 15 महिलाओं और पुरुषों पर संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।


रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

Related Posts