सम्पूर्णानगर खीरी :- पीलीभीत उपनिवेशन संघ के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद पर नामांकन व चुनाव को लेकर बीते मंगलवार को खुलेआम गुंडई करते हुए चलाई गई गोलियां । यह घटना संपूर्णा नगर के लिए नजीर बन गई है। सत्ता पक्ष के दो गुटों द्वारा खुलेआम तांडव की चर्चा क्षेत्र में हर किसी की जुबान पर है।

वहीं पुलिस की मौजूदगी में भाजपाइयों द्वारा फिल्मी अंदाज में फिल्माए गए ड्रामे को लेकर अन्य पार्टियों के नेता चुटकी तो ले ही रहे हैं उसी पार्टी के नेता भी चुटकी लेने में पीछे नहीं हैं। कल चुनाव स्थल पेट्रोल पंप पर जिस प्रकार से घटना घटी यदि वहां कोई आगजनी आदि होती तो निश्चित तौर पर सम्पूर्णानगर को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता था।



खीरी पीलीभीत उपनिवेशन संघ के छोटे से चुनाव को लेकर भाजपा के जिला अध्यक्ष सहित अन्य विधायकों का इस चुनाव में पहुंचने तथा भाजपाइयों के आपस में टकराने को लेकर क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं।



आपको बता दें खीरी पीलीभीत उपनिवेशन संघ की स्थापना लगभग 65 वर्ष पूर्व 1956 में हुई थी संघ के पास 10 एकड़ भूमि में करोड़ों की संपत्ति है। वही वर्तमान में संघ के विकास के लिए 60 लाख रुपए का प्रोजेक्ट आया हुआ है। क्षेत्र में हो रही चर्चाओं पर गौर करें तो संघ के पास मौजूद संपत्ति के रूप में मलाई पर जिले के सिर्फ भाजपाइयों की नजर के चलते यह घटना घटित हुई है जो कि बेहद शर्मनाक है।




इस पूरे मामले में पुलिस की भूमिका

मामूली चुनाव के दौरान जिस प्रकार अवैध तमंचे से एक के बाद एक पांच से सात फायरिंग हुई प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दो से तीन लोगों के पास अवैध तमंचे थे लगभग 10 मिनट तक ड्रामा चलता रहा परंतु पुलिस मूकदर्शक बनी रही किसी को पकड़ा क्यों? नहीं और यदि पकड़ा भी तो छोड़ा क्यों?




खीरी- पीलीभीत उप निवेशन संघ के चुनाव के लिए बनाए गए चुनाव अधिकारी आशीष कुमार सिंह तहसीलदार पलिया ने फिलहाल चुनाव पर रोक लगा दी है। चुनाव कब होगा ?यह प्रश्न समय के गर्त में है।


चुनावी घटनाक्रम की अगले दिन की स्थिति

फिलहाल नामांकन एवं चुनाव को लेकर हुए विवाद में एक पक्ष धीरेंद्र कुमार पुत्र राकेश निवासी परसपुर की तरफ से थाने में दी गई तहरीर के आधार पर पुलिस ने पिता-पुत्र उमाशंकर मिश्रा पुत्र विश्वेश्वर दयाल मिश्रा, राहुल मिश्रा पुत्र उमाशंकर मिश्रा दोनों निवासी गोटय्या बाग कोतवाली सदर खीरी तथा 40 से 45 व्यक्ति अज्ञात।

वहीं उमाशंकर मिश्रा की तरफ से दी गई तहरीर के आधार पर धीरेंद्र शुक्ला पुत्र रामाश्रय शुक्ला, धीरेंद्र कुमार पुत्र राकेश शुक्ला, गौरव शुक्ला पुत्र वीरेंद्र शुक्ला निवासी परसपुर सम्पूर्णानगर जिला खीरी सहित 26 लोगों को नामजद करते हुए 70 से 80 अज्ञात लोगों पर भारतीय दंड संहिता के अनुसार विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर ली है।



रिपोर्ट-गोविन्द कुमार