गोंडा:- करनैलगंज सीएचसी में उस वक्त हड़कम्प मच गया जब एक युवक अर्धबेहोसी की हालत में अस्पताल लाया गया और पता चला कि उसे किसी चाय के साथ जहर दे दिया है। बताया गया कि पीड़ित युवक प्रधान व जिला पंचायत सदस्य पद के संभावित प्रत्याशी के रूप में उभर रहा है,जिसे जहर देकर मारने की कोशिश की गई। पीड़ित युवक को गंभीर हालत में सीएचसी लाया गया जहां से उसे इलाज हेतु गोंडा रेफर किया गया है। मिली जानकारी के मुताविक कटरा थानाक्षेत्र  अन्तर्गत गोड़वा नसीरपुर गांव निवासी जीवन प्रकाश 25 वर्ष पुत्र विकास चंद्र सेमरा चौराहे पर चाय पीने गया था जहां पर चाय पीने के बाद उसे बेचैनी होने लगी तथा कुछ ही देर में उसे बेहोशी आ गई। मामले की जानकारी होते ही उसके परिजन उसे लेकर करनैलगंज सीएचसी पहुँचे और उसका इलाज शुरू किया गया, लेकिन उसकी हालत गंभीर होती गई और उसे ऑक्सीजन की जरूरत पड़ गयी पर अस्पताल की लचर व्यवस्था के चलते उसे काफी मशक्कत करने के बाद किसी तरह ऑक्सीजन मिल पाई,उधर बेटे को तड़पता देखकर पिता विकास चंद्र का रो रो कर बस यही कह रहा था कि डॉक्टर साहब मेरे बेटे को बचा लीजिये। पीड़ित जीवन के पिता द्वारा गांव के ही एक व्यक्ति पर उसे कुछ खिला-पिला देने का आरोप लगाया गया है। त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत के चुनाव की सुगबुगाहट होते ही प्रत्याशी अपने प्रतिद्वंदियों से चुनाव जीतने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाने शुरू कर दिये हैं। ऐसे में प्रशासन ने यदि समय रहते अपने सूचना तंत्र को शक्तिशाली और मजबूत नहीं बनाया तो आने वाले दिनों में किसी बड़ी घटना को होने से इनकार नहीं किया जा सकता। वहीं मामले में सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर सुरेश चंद्रा का कहना है कि पीड़ित युवक को कोई जहरीला पदार्थ दिया गया है, उसकी पल्स भी कम हो रही है थी। अर्धचेतन अवस्था में उसे बेहतर इलाज के लिए जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है।

रिपोर्ट राहुल तिवारी जिला संवाददाता गोंडा