सरेराह रोक कर व्यक्ति पर प्राणघातक हमला करने वाले आए पुलिस की गिरफ्त में

by vaibhav

राजगढ़(मध्य प्रदेश) :- आपको बता दें कि थाना ब्यावरा देहात क्षेत्र अंतर्गत हुई मारपीट की वारदात का हुआ खुलासा, विगत दिनों ब्यावरा देहात क्षेत्र अंतर्गत इलेक्ट्रिक ग्रिड के सामने मुल्तानपुरा रोड, पर एक व्यक्ति को सरेराह रोक कर धारदार हथियारों से उस पर प्राणघातक हमला कर उसके साथ मारपीट की घटना घटित हुई थी|

जिस पर जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा मामले को गंभीरता से लेकर तत्काल पतारसी के निर्देश दिए गए थे| आपको बता दें कि मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल थाना ब्यावरा देहात मैं फरियादी रिक्की उर्फ राजवर्धन बना की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 369/2020 धारा 294, 323, 324, 506, 34, 341, 307, भादवी के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया था|

मामले में अपराधीगणो की तलाश के दौरान मुखबिरो को काम पर लगाया गया, वही एक और दीपावली का त्यौहार होने से बाजारों में चहल पहल एवं भीड़ भाड़ होने से आरोपी घटना करके फरार होने में कामयाब रहे|
मौके पर उपस्थित लोग भी उन्हें पहचान नहीं पाए, जिसके चलते पुलिस की मुश्किलें और बढ़ गई|
आपको बता दें कि मामले में अग्रिम कार्यवाही करते हुए, जिला पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा, द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस आर दंडोतिया, एवं अनुविभागीय पुलिस अधिकारी ब्यावरा सुश्री किरण अहिरवार, के मार्गदर्शन में एक टीम का गठन किया गया|

थाना प्रभारी ब्यावरा देहात आदित्य सोनी द्वारा अपनी टीम के साथ मिलकर फरार अपराधियों की तलाश पतारसी प्रारंभ की मुखबिर की सूचना एवं तकनीकी सहयोग से टीम के सामने अपराध में संलिप्त कुछ लोगों के नाम प्रकाश में आए, देर न करते हुए संदिग्ध लोगों के पूर्व रिकॉर्ड को खंगालना शुरू किया गया|
जिससे परत दर परत नाम पुख्ता होते चले गए|
आपको बता दें कि पुलिस टीम ने लगातार प्रयत्न करते हुए घटना में शामिल चारों अपराधियों की गिरफ्तारी कर ली गई है| आरोपियों से पूछताछ कर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही करने उपरांत न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा|

उक्त मामले का जल्द खुलासा करने में थाना प्रभारी ब्यावरा देहात उप निरीक्षक आदित्य सोनी, सहायक उप निरीक्षक अरुण जाट, प्रधान आरक्षक 356 समीर, आरक्षक 160 हेमंत भार्गव, आरक्षक 336 चेतन चौहान, आरक्षक 397 अमित रघुवंशी, आरक्षक 310 गौरव, आरक्षक 1017 दीपक, आरक्षक 130 राजबहादुर, सहित तकनीकी सहायता साइबर सेल राजगढ़ से आरक्षक 252 शशांक सिंह, एवं आरक्षक 816 रवि कुशवाह, की सराहनीय भूमिका रही|

रिपोर्ट :- कमल चौहान

Related Posts