सोयाबीन की बरसादी फसल ख़राब होने से किसान हुए चिन्तित

by raju
23 views

सोयाबीन की फसल खराब होने से किसान चिंतित

राजगढ़ जिले के नरसिंहगढ़ एवं ब्यावरा ब्लॉक के कई ग्रामों का ,,मीडिया,,टीम ने जब सर्वे किया तो ग्रामीणों ने बताया कि हमारी सोयाबीन सावन माह में अधिक लंबे समय तक वर्षा नहीं होने के कारण इल्लियों के प्रकोप से फूल नष्ट कर दिए गए कुछ ग्रामीणों ने बताया कि हमारे यहां सोयाबीन के पेड़ तो काफी बड़े हैं मगर उनमें फल नहीं लगे हैं सोयाबीन पीली पड़ गई और फलियो मै दाने नहीं आए।
इसी तरह ब्यावरा ब्लॉक के खेजड़ा महाराज बागवाज लोधी पुरा तरेना तरेनी गंगा होनी भॅवास आदि व नरसिंहगढ़ ब्लॉक के लश्करपुर बड़ोदिया तालाब झाड़ला बिजोरी बिहार कोटरा कई ग्रामों मैं फसल पूरी तरह प्रभावित देखी गई
फसल में फल नहीं लगे हैं कुछ जगहों पर फल लगे भी हैं तो पीले रोग के कारण पत्ते पीले पढ़ते जा रहे हैं और जो फली थी वह गिरने लगी इस तरह किसानों की आने वाली खरीफ की फसल कम से कम 80% नष्ट हो चुकी है
सभी ग्रामीणों ने प्रशासन से मांग की है कि पटवारी को भेजकर सर्वे कराए और जो उचित मुआवजा हो वह दिलाने की कृपा करें कई किसानों ने बताया है कि हमें कमलनाथ की सरकार के समय ऋण माफी के प्रमाण पत्र दिए गए थे हम उसी के भरोसे सोसाइटी का लेन-देन भी समय पर नहीं किया इसके कारण हम डिफर्टेर हो गए और सोसाइटी से हमें खाद्य बीज भी नहीं मिला हमने इधर-उधर से पैसे उधार लेकर सोयाबीन की फसल बोई थी अब सोयाबीन पूरी तरह खराब होने की वजह से हम वह कर्ज भी समय पर नहीं लौटा पाएंगे ऐसे में हमारी आर्थिक स्थिति बहुत खराब व पेट भरने के भी लाले पड़ जाएंगे। इसी संदर्भ में कुरावर नायब तहसीलदार राजन शर्मा कोभी ज्ञापन दिया गया जब हमने उनसे चर्चा की तो उन्होंने बताया कि जो किसान डिफाल्टर है तथा जिन किसानों ने अभी तक बीमा के फार्म जमा नहीं किया वह 31 तारीख तक आवेदन जमा कर दें ताकि उनको भी योजना का लाभ मिल सके। जब इस संदर्भ में नरसिंहगढ़ एसडीएम अमन वैष्णव से किसानों की समस्या को लेकर फोन पर चर्चा की तो उन्होंने बताया कि अभी हमें शासन के कोई सर्वे के ऐसे निर्देश नहीं मिले फिर भी हम किसानों की समस्या से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर जो भी निर्देश मिलेंगे वो पटवारी को दे दिए जाएंगे

रिपोर्ट :- होकम मालवीय

Related Posts